हिमाचल प्रदेश महिला आयोग का राष्ट्रीय महिला आयोग के नाम पत्र

लिखा ..उच्च अधिकारियों तक पहुंचाएं बात और की जाए कड़ी कार्यवाही

0
82

 

कंगना रनौत मामला लगातार गहराता ही जा रहा है। बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत से शुरू हुआ यह मामला अब कंगना और महाराष्ट्र के बीच गर्मा गया है। बॉलीवुड में चल रही वंशवाद परंपरा और ड्रग माफिया पर बयानबाजी करते हुए मामला महाराष्ट्र की उद्धव सरकार पर ठन गया। बात  बीएमसी द्वारा मुंबई में कंगना के कार्यालय को तोड़ने पर पहुंच गया जिससे मामला और ज्यादा तूल पकड़ गया।  प्रदेश की राजनीति को भी कंगना-उद्धव सरकार मामले की आग की आंच तपा गई। जहां प्रदेश के बीजेपी नेता कंगना के समर्थन में आ गए हैं वहीं आज भाजपा समर्थकों ने कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन पर जम कर प्रदर्शन किया। साथ ही कांग्रेस के नेताओं पर कंगना का साथ न देने का आरोप लगाया।
दूसरी ओर हिमाचल प्रदेश महिला आयोग भी कंगना के समर्थन में उतर आई हैं। उन्होंने कंगना रनौत के मसले पर मीडिया रिपोर्ट के आधार पर कड़ा संज्ञान लिया है। आयोग ने राष्ट्रीय महीला आयोग को पत्र लिखा है। बीएमसी, मुंबई पुलिस और नेताओं द्वारा कंगना पर की गई कार्रवाई को आयोग ने शोषण माना है और जमकर इसकी भर्त्सना की है।  हिमाचल प्रदेश महिला आयोग ने राष्ट्रीय महिला आयोग को पत्र में लिखा है कि कंगना रनौत ने हिमाचल प्रदेश का नाम न केवल राष्ट्रीय स्तर पर बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी ऊंचा किया है। हिमाचल महिला आयोग ने पत्र में मांग की है कि राष्ट्रीय महिला आयोग इस मसले को उपयुक्त अधिकारियों तक पहुंचाएं और सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here