9459100100 पर दे नियम तोड़ने वालों की जानकारी

उल्लंघन करने वालों के खिलाफ लगाई जा सकती हैं एटेम्पट टू मर्डर की धारा

0
212


अपराधी की तरह अदालत में पेश होने से बेहतर है कि सरकार द्वारा कोविड-19 की गाइडलाइंस का ईमानदारी से पालन किया जाए और अपनी और अपने समाज की सुरक्षा करें,यह बात आज एस आर मरडी पुलिस महानिदेशक शिमला ने अपने वीडियो संदेश में कही। उन्होंने कहा कि नियमों की अनुपालनान करने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त धारा लगाई जाएंगी यहां तक कि एटेम्पट टू मर्डर की धारा भी लगाई जा सकती है। साथ ही उन्होंने उन लोगों का भीआभार जताया जो कोविड-19 की लड़ाई में होम कोरेंटिन के नियमों को पूरी ईमानदारी से अपना रहे हैं। साथ ही उन्होंने होम कोरेंटिन का पालन न करने वालों की जानकारी देने के लिए लोगों से पुलिस व्हाट्सएप नंबर 9459100100 भी  सांझा किया। उन्होंने नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों की फ़ोटो सहित पूरी जानकारी देने का आग्रह किया ।

प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव की बढ़ती संख्या पर चिंता व्यक्त करते हुए  डीजीपी मरडी ने कहा कि इस महामारी से बचने का अब एक ही उपाय है कि सभी सोशल डिस्टेंसिंग अपनाए साथ ही अपने चेहरे पर मास्क पहने और आरोग्य सेतु ऐप डाउन लोड करें और जिनके पास एंड्रॉइड फोन नहीं है वे लोग 104 नंबर पर डायल करके सेल्फ असेसमेंट करवाएं।
उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को आरोग्य सेतु ऐप से निजी जानकारी के लीक होने का डर है इस संबंध में उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि यह बिल्कुल निराधार है। छह महीने के बाद ही डाटा डिलीट हो जाता है। 

वहीं नर्स डे पर उन्होंने लेडी विद लैम्प्स फ़्लोरेन्स नाइटिंगेल की 200वीं वर्षगांठ पर उनसे समाज सेवा की प्रेरणा लेने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि फ़्लोरेन्स रात भर लैंप लेकर युद्ध में घायल सैनिकों की सेवा करती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here