आग से झुलसी युवती की पीजीआई में मौत, पुलिस कर्मी पर हत्या का केस दर्ज

11 नवंबर को नाहन में पेश आई थी वारदात, आरोपी किया जा चुका है सस्पेंड

0
350

नाहन: 11 नवंबर को नाहन में आग से झुलसी युवती की 12 दिन बाद पीजीआई चंडीगढ़ में मौत हो गई है। अटेंप्ट टू मर्डर के आरोप में आरोपी पुलिस कर्मी को बीते दिन ही एसपी सिरमौर डा. खुशहाल चंद शर्मा ने सस्पेंड कर दिया था। रात को युवती की मौत के बाद अब आरोपी पुलिस कर्मी पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है।

गौरतलब हो कि चाइल्ड लाइन सिरमौर की पूर्व काउंसलर रही विनीता ठाकुर निवासी हलांहा, शिलाई को किसी कहासनी के बाद आरोपी पुलिस कर्मी ने पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी थी। इस वारदात में पुलिस कर्मी के भी दोनों हाथ झुलस गए थे। जबकि, युवती 60 फीसदी तक जल चुकी थी। वारदात के बाद मेडिकल कालेज नाहन में प्राथमिक उपचार के बाद उसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया था। अब तक पीजीआई में विनीता जिंदगी व मौत से जूझ रही थी। बीती रात विनीता जिंदगी की जंग हार गई।

बताया जा रहा है कि विनीता अपनी शादी का कार्ड देने पुलिस कर्मी के कमरे में गई थी जहां कहासुनी के बाद पुलिस आरक्षी सूर्यकांत ने पेट्रोल छिड़क विनीता को आग के हवाले कर दिया था। 21 नवंबर को विनीता की शादी होनी थी, मगर इस बीच वारदात के बाद सिरमौर में सनसनी फैल गई। विनीता ने बीते माह चाइल्ड लाइन के काउंसलर पद से इस्तीफा दिया था। विनीता हमेशा बच्चियों के यौन शोषण के खिलाफ लड़ाई लड़ती आ रही थी।

उधर, एसपी सिरमौर डा. खुशहाल चंद शर्मा ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि युवती की मौत हो चुकी है। आरोपी पुलिस कर्मी पर आईपीसी की धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने कहा कि आरोपी को विभाग ने शनिवार को ही सस्पेंड कर दिया था। पुलिस मामले में आगामी कार्रवाई कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here