झुठ बोल कर अपने परिवार को न डाले मुसीबत में : डीजीपी मरडी

अपनी सही जानकारी दें

0
165


लोग अभी भी होम कोरेंटिन के नियमों का पालन ईमानदारी से नहीं कर रहे हैं और लोग झुठ बोलकर समाज और अपनों के जीवन को खतरे में डाल रहें हैं। शिमला पुलिस महानिदेशक एस.आर मरडी ने आज अपने वीडियो संदेश में यह बात कही। उन्होंने लोगों से आग्रह करते हुए कहा कि अपनी प्रशासन को अपनी सही जानकारी देें। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया में शिमला के कोविड फ्री होने की खबर फैैली हुुुई है बावजूद इसके लोग सतर्कता बरतें। नियमों का पालन करें और सोशल डिस्टेंसिंग अपनाएं।

उन्होंने कहा कि रेड जोन से आने वाले लोगों को होम और संस्थागत कोरेंटिन की 14 दिन की अवधि पूरी करनी ही होगी। उन्होंने कहा कि देश में कोरोना के केसेस लगातार बढ़ रहे हैं। आज पूरे देश में 86 हजार कोरोना संक्रमित हैं और 2750 लोगों की मृत्यु हो गई है। उन्होंने कहा कि हमारे देश में चाइना के मुकाबले में केस बढ़े हैं लेकिन मृत्यु दर भारत में कम है और हमारे ठीक होने की प्रतिशतता भी 35% है ।

साथ ही डीजीपी मरडी ने कहा कि शिमला में मकान मालिकों की किराए मांगने की भी बहुत शिकायतें आ रही है। उन्होंने उनसे आग्रह किया है कि वह अपने किराएदारों की परेशानियों को समझें और उदारता का परिचय देते हुए किराए न मांगे। उन्होंने कोरोना संकट में लोगों में आपसी सहयोग और मानवता की मिसाल का उदाहरण देते हुए कहा कि मंडी सरकाघाट के मृतक युवक की उसके गांव के लोगों ने फसल काट कर दी है। कोरोना ने जहां लोगों को परेशान किया है वहीं लोगों को एक दूसरे से जोड़ा भी है। उन्होंने आत्मनिर्भर बने देशों का उदाहरण देते हुए पीएम मोदी के लोकल की वोकल बनने के संदेश की  सराहना करते हुए लोगों से आत्मनिर्भर बनने का आग्रह भी किया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here