राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से मिले डीजीपी मरडी

कानून व्यवस्था से भी अवगत करवाया।

0
294


पुलिस महानिदेशक एस.आर. मरडी ने राजभवन में राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से भेंट की। डीजीपी ने राज्यपाल को पुलिस प्रशासन द्वारा कोविड-19 को लेकर की जा रही कार्यवाही की जानकारी दी राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय को दी साथ ही उन्हें कानून व्यवस्था से भी अवगत करवाया। डीजीपी मरडी ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस विभाग द्वारा कर्फ़्यू का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ 1484 अभियोग पंजीकृत किए गए हैं, जिनमें से 1305 व्यक्तियों को उल्लंघन करने पर गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि 465 व्यक्तियों के खिलाफ दण्ड प्रक्रिया संहिता की निवारक धाराओं के अन्तर्गत कार्रवाई की गई है। उन्होंने जानकारी दी कि कर्फ़्यू के उल्लंघन पर 1297 गाड़ियों को जब्त किया गया है और उल्लंघन करने वालों पर 28.45 लाख रुपये जुर्माना लगाया गया है। उन्होंने जानकारी दी कि कर्फ़्यू के दौरान आदेशों का कार्यान्वयन करवाते समय पुलिस कर्मचारियों पर हमले के 10 अभियोग 20 व्यक्तियों के खिलाफ पंजीकृत किए गए हैं, जबकि झूठी अफवाहें फैलाने के संदर्भ में 54 अभियोग पंजीकृत किए गए हैं।पुलिस महानिदेशक ने बताया कि प्रदेश की सीमाओं को सील किया गया है और पुलिस द्वारा 24 घंटे की  गश्त की जा रही है। इस कार्य के लिए जिला पुलिस के अतिरिक्त बटालियनों के 1500 जवानों और 862 गृह रक्षकों को तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेशवासियों से आग्रह किया गया है कि यदि उन्हें कर्फ़्यू के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या हो तो वे इसकी सूचना आपातकालीन प्रक्रिया समर्थन प्रणाली-112 पर दे सकते हैं और अभी तक इसके माध्यम से 322 सूचनाएं प्राप्त हुईं हैं, जिनमें से 311 का निपटारा किया जा चुका है।
उन्होंने कहा कि गत माह प्रदेश से 180 तबलीगी जमात के लोगों द्वारा दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया था। पुलिस ने इनके संपर्क में आए 1107 लोगों की पहचान की और उन सभी को क्वारंटीन किया गया।
राज्यपाल ने कहा कि पुलिस प्रशासन ने प्रदेश में जिस तरह स्थिति को संभाला हुआ है और सभी जवान कोरोना काल में अपनी ड्यूटी को मुस्तैदी से निभा रहे हैं, वह प्रशंसनीय है। इस कार्यप्रणाली से पुलिस की छवि और अच्छी हुई है और लोगों का विश्वास बढ़ा है। उन्होंने कहा कि इस समय सभी आपातकालीन सेवाओं वाले विभागों को समन्वय से कार्य करने की आवश्यकता है। विशेषकर, सही सूचना सरकार तक पहुंचे,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here