मुख्यमंत्री ने किया मिंजर शोभा यात्रा का नेतृत्व

0
267
????????????????????????????????????

चम्बा का सप्ताह भर चलने वाला ऐतिहासिक अंतरराष्ट्रीय मिंजर मेला आज सम्पन्न हो गया। मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने पौराणिक परंपरा के अनुरूप ऐतिहासिक शोभा यात्रा की अगवानी की। इस अवसर पर रंगीन पगड़ी में सुसज्जित मुख्यमंत्री को मिंजर (मक्की के पौधे के शीर्ष फूलों का प्रतीक रेशमी गुच्छा/अलंकार) बांधी गई। शोभा यात्रा अखंड चंडी महल से आरम्भ हुई और मुख्य बाजार से गुजरी, जहां सड़क के दोनों किनारों पर पारम्परिक एवं रंग-विरंगे परिधानों में सुसज्जित पूरे जिले से आए हजारों लोग शोभा यात्रा की झलक पाने के लिए एकत्र हुए थे। शोभा यात्रा शहर के प्रधान देवता भगवान रघुवीर, जिन्हें स्थानीय देवी-देवताओं के प्रतीक छड़ी सहित खुबसूरत ढंग से सजाई गई पालकी में लाया गया।

????????????????????????????????????

शोभा यात्रा अंततः मंजरी बाग में सम्पन्न हुई, जहां पारम्परिक ‘कुंजड़ी-मलहार’ का गायन किया गया तथा मुख्यमंत्री ने रावी नदी में मिंजर और नारियल विसर्जित किए। मुख्यमंत्री ने ऐतिहासिक चौगान में पारम्परिक ‘छिंज’ प्रतियोगिता के समापन समारोह की अध्यक्षता की और विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए। चम्बा चौगान में भरमौर क्षेत्र का रंगारंग डांडरस नृत्य (जनजातीय नृत्य) का भी प्रदर्शन किया गया। इससे पूर्व, मुख्यमंत्री नूरपुर से सड़क मार्ग से आशा कुमारी के विधानसभा क्षेत्र डलहौजी के बनीखेत पहुंचे, जहां उन्होंने परिवहन एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री जी.एस. बाली के साथ 14 करोड़ की लागत से निर्मित राजीव गांधी पॉलिटेनिक कालेज का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने पॉलीटेक्निक कालेज में मैकेनिकल ट्रेड आरम्भ करने तथा लगभग 3 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले छात्रावास के निर्माण की भी घोषणाएं की।
????????????????????????????????????

बनीखेत में अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के वर्तमान कार्यकाल के दौरान राज्य में 7 पॉलीटेक्निक संस्थान तथा 38 नए औधोगिक प्रशिक्षण संस्थान खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि युवाओं को स्वरोजगारोन्मुखी बनाने तथा उन्हें उनकी रूचि के पाठ्यक्रमों की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए पॉलीटेक्निक अथवा औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान जैसे व्यावसायिक प्रशिक्षण केन्द्र समय की आवश्यकता है और राज्य सरकार इस दिशा में सकारात्मक प्रयास कर रही है।

परिवहन मंत्री जी.एस. बाली ने वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान खोले गए तकनीकी संस्थानों का ब्यौरा देते हुए कहा कि इन संस्थानों के अलावा बिलासपुर में 120 करोड़ रुपये की लागत से हाईड्रो इंजीनियरिंग कालेज तथा सोलन जिले के बद्दी में केन्द्रीय प्लास्टिक प्रौद्योगिकी संस्थान खोले जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने श्री जी.एस. बाली, ठाकुर सिंह भरमौरी तथा श्रीमती आशा कुमारी के साथ चम्बा जिले के सरोल में 4.37 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित मिलेनियम पॉलीटेक्निक कालेज का भी लोकार्पण किया। दोनों पॉलीटेक्निक का निर्माण हिमुड़ा द्वारा किया गया है।
श्री वीरभद्र सिंह ने चम्बा साहू सड़क पर केहलाला नाला पर 1.66 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित पुल का भी लोकार्पण किया। इस पुल के निर्माण से गौरी, किदी, रायन, पालियूर और पधर पांच ग्राम पंचायतों की 10 हजार की आबादी लाभान्वित होगी।
राज्य युवा काग्रेस के अध्यक्ष श्री विक्रमादित्य सिंह, हि.प्र. राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष श्री कुलदीप सिंह पठानिया, जिला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष श्री सुरेन्द्र भारद्वाज, हि.प्र. राज्य वन विकास निगम के उपाध्यक्ष श्री केवल सिंह पठानिया, जिला परिषद के अध्यक्ष श्री धर्म सिंह पठानिया, खण्ड कांग्रेस समिति के अध्यक्ष श्री ब्रह्मा नन्द ठाकुर, एपीएमसी के अध्यक्ष श्री नीरज नैय्यर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here