सीएम जयराम ठाकुर का मंडी बीजेपी पदाधिकारियों को निर्देश

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के संबंध में जारी दिशा-निर्देशों का सख्ती से करवाएं पालन

0
113

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला मण्डी के भाजपा कार्यकर्ता और पदाधिकारियों से बातचीत करते हुए कहा कि सभी कार्यकर्ताओं को केंद्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के संबंध में जारी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करना चाहिए।
मुख्यमंत्री ने पार्टी कार्यकर्ताओं से आम जनता को इस महामारी को फैलने से रोकने के प्रति बचाव और प्रदेश सरकार द्वारा किए गए विभिन्न प्रयासों के बारे में जागरूक करने को कहा। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को इस महामारी के दौरान लोगों की सहायता के लिए पीएम केयर्ज और कोविड फंड में उदारतापूर्वक अंशदान करने को कहा। उन्होंने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता अन्य लोगों को भी इस फंड में उदारतापूर्वक अंशदान करने के लिए प्रेेरित करें।


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने रेड जोन से आने वाले लोगों का उचित तरीके से पृथीकरण सुनिश्चित करने के लिए संस्थागत क्वारंटीन के सभी आवश्यक प्रबंध किए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब तक 3627 लोगों को संस्थागत क्वारंटीन में रखा गया है और उन्हें समय-समय पर स्वास्थ्य जांच के अलावा सभी आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त 89,293 अन्य लोगों को होम क्वारंटीन में रखा गया है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि सभी होम क्वारंटीन में रखे गए लोग क्वारंटीन के नियमों का पालना सख्ती से करें, यह सुनिश्चित करना भी पार्टी कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों के पारिवारों को होम क्वारंटीन और सामाजिक दूरी के महत्व के बारे में जागरूक किया जाना चाहिए। उन्होंने कार्यकर्ताओं से यह भी सुनिश्चित करने को कहा कि यदि कोई होम क्वारन्टीन के नियमों का उल्लंघन बार-बार करता है तो वे इसे जिला प्रशासन के ध्यान में मामला लाएं, ताकि उल्लंघन करने वाले को संस्थागत क्वारन्टीन में स्थानांतरित किया जा सके।  
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बीमारी से जुड़ी सामाजिक बुराई के बारे में भी लोगों को शिक्षित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह बीमारी वायरस से ज्यादा कुछ नहीं है। उन्होंने कहा कि इसके लिए केवल सामाजिक दूरी बनाए रखने की जरूरत है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से राज्य में फंसे प्रवासी मजदूरों को भोजन और आश्रय देने के लिए भी आगे आने का आग्रह किया।
जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व और उनके द्वारा समय पर लिए गए निर्णयों के कारण ही आज देश की स्थिति विकसित देशों से कहीं बेहतर है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश की स्थिति अधिकतर पड़ोसी राज्यों से बेहतर है। उन्होंने कहा कि 2 मई को प्रदेश में केवल मात्र एक ही कोविड पाॅजिटिव व्यक्ति था, लेकिन उसके बाद कोविड मरीजों की यह संख्या बढ़कर 31 हो गई। उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे राज्य के लगभग 1.15 लाख लोगों की वापसी के कारण यह संख्या बढ़ी है।
जय राम ठाकुर ने पार्टी कार्यकर्ताओं से आरोग्य सेतु एप्प डाउनलोड करने का भी आग्रह किया, क्योंकि इससे उन्हें कोविड-19 के संबंध में सभी जरूरी जानकारी उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि आरोग्य सेतु इलेक्ट्रोनिक्स और आईटी मंत्रालय द्वारा विकसित किया हुआ एक कोविड-19 संपर्क ट्रेसिंग ऐप है, जो जीपीएस और ब्लूटूथ सेंसर की मदद से उपयोगकर्ता को ट्रैक कर उसका पता लगाता है। उन्होंने कहा कि अब तक प्रदेश के 11,48,387 लोगों ने अपने मोबाइल पर इस एप्प को डाउनलोड किया है।
उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को परामर्श दिया कि कांग्रेस नेताओं द्वारा किए जा रहे झूठे प्रचार का जवाब देने के लिए विभिन्न सोशल प्लेटफाॅर्म का इस्तेमाल करें। उन्होंने कहा कि विपक्ष विभिन्न मुद्दों को लेकर लोगों को गुमराह कर रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्राथमिकता वाले परिवारों के चयन के लिए एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। जिसके अन्र्तगत बीपीएल, प्राथमिकता वाले परिवारों के लिए आय सीमा को संशोधित कर 45000 रुपये किया है, जिसमें खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत राज्य के 1,50,000 अतिरिक्त परिवारों को शामिल किया जाएगा और उन्हें रियायती दरों पर खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य के 6,78,338 परिवार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के दायरे में आते हैं जिनकी कुल आबादी 27,84,717 है, जबकि राज्य के लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम का लक्ष्य 36,81,586 है। उन्होंने कहा कि इस निर्णय के चलते अब ये परिवार 3.30 रूपये प्रति किलो गेंहू आटा और 2 रूपये प्रति किलो चावल रियायती दरों पर ले सकेंगे। उन्होंने कहा कि इस पर प्रति वर्ष 10 करोड़ रुपये का अतिरिक्त खर्च होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं को लोगों को फेस मास्क और फेस कवर तैयार कर उन्हें वितरित करने के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि बीमारी को फैलने से रोकने के लिए यह जरूरी नहीं है कि सर्जिकल मास्क या किसी ब्रांडेड मास्क का ही प्रयोग किया जाए बल्कि घर में बना कपड़े का मास्क भी पर्याप्त है। उन्होंने कहा कि लोगों को इस बीमारी के संबंध में जागरूक करने के साथ-साथ किसी भी तरह की अफवाह न फैलाने के लिए जागरूक किया जाए।
सांसद रामस्वरूप शर्मा ने वीडियो कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि हर पार्टी के कार्यकर्ता को विपक्ष द्वारा फैलाए जा रहे झूठे प्रचार से सक्रियता से निपटना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों को केंद्र और राज्य सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों के बारे में अधिक से अधिक जानकारी दी जानी चाहिए।
विधायक राकेश जम्वाल, जवाहर ठाकुर व इंद्र सिंह गांधी, जिला भाजपा अध्यक्ष रणवीर सिंह, जिला भाजपा महासचिव प्रियंता शर्मा सहित अन्य नेता वीडियो कांफ्रेंस में शामिल हुए।      

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here