हैदराबाद पुलिस के इंस्पेक्टर के नाम सीएम जयराम ठाकुर का धन्यवाद पत्र

0
270

प्रदेश मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हिमाचल के हमीरपुर जिला के निवासी ललित कुमार की मदद करने के लिए हैदराबाद पुलिस के इंस्पेक्टर लक्ष्मीनारायण रेड्डी का पत्र लिख कर आभार जताया है। उन्होंने इंस्पेक्टर रेड्डी को लॉकडाउन की वजह से फंसे हुए व्यक्ति को अस्पातल में भर्ती करवाने और उसके मेडिकल का पूरा खर्च उठाने के लिए धन्यवाद दिया। सीएम ने मानवता के इस उदाहरण की न केवल प्रशंसा की बल्कि पत्र लिख कर उन्हें धन्यवाद भी दिया। इंस्पेक्टर रेड्डी को लोगों के लिए प्रेरणा बताते हुए सीएम ने भरपूर प्रशंसा की। सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी से भारत सहित पूरा विश्व जूझ रहा है। आम जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। लोगों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। ऐसी परिस्थितियों में मदद का हाथ बढ़ाना सराहनीय है।

उन्होंने लिखा….
आपने न केवल लॉकडाउन में फंसे व्यक्ति को अस्पताल पहुंचाया, बल्कि उसके ऑपरेशन का 20 हजार का खर्च भी उठाया। मैं आपके इस महान काम की प्रशंसा करता हूँ। आप COVID-19 की लड़ाई में शामिल सभी लोगों के लिए एक प्रेरणा हैं।
आपका शुक्रिया।

यह था मामला..
हैदराबाद के कुकटपल्ली पुलिस थाने में तैनात
इंस्पेक्टर लक्ष्मीनारायाण रेड्डी ने अपेंडिक्स के मरीज को न केवल अस्पताल पहुंचाया बल्कि उसके इलाज का खर्च भी अपनी जेब से उठाया। 16 अप्रैल 2020 को तेलंगाना में कुकटपल्ली डिविजन से COVID-19 कंट्रोल रूम में ललित कुमार नाम के व्यक्त्ति के
बीमार होने की सूचना मिली। कंट्रोल रूम ने मामले को कुकटपल्ली पुलिस थाने को रेफर कर दिया और मामला इंस्पेक्टर लक्ष्मीनारायाण रेड्डी के पास पहुंचा। वह तुरंत ललित कुमार के पास पहुंचे जहां उन्हें पता चला कि ललित हिमाचल प्रदेश के रहने वाले हैं और लॉकडाउन की वजह से घर नहीं जा पाए हैं। ऐसे में ललित को अपेंडिक्स की तेज़ दर्द ने घेर लिया लेकिन पैसों की कमी के चलते ललित कुछ नहीं कर पा रहे थे। ललित के माली हालात जानने के बाद इंस्पेक्टर लक्ष्मीनारायण ने न केवल उन्हें अस्पातल में भर्ती करवाया, बल्कि अपनी जेब से उनके इलाज़ का पूरा खर्च भी वहन किया। 20 हजार रुपये के मेडिकल बिल के अलावा उनकी देखभाल की जिम्मेदारी को भी निभाया।
हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री कार्यालय को मानवता की मिसाल पेश करते इस वाक़ये की जब खबर लगी तो मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने खुद इंस्पेक्टर रेड्डी को फोन कर उनकी प्रशंसा की और उनका धन्यवाद किया। इतना ही नहीं, सीएम जयराम ठाकुर ने इंस्पेक्टर लक्ष्मीनारायण रेड्डी का आभार जताते हुए विशेष तौर पर पत्र भी लिखा।

कोरोना संकट ने पूरी दुनिया के लोगों को चारदीवारी में कैद होने को मजबूर कर दिया है। इस वैश्विक महामारी ने लोगों की जिंदगी के पहिए को थमा दिया है। अपने नागरिकों की सुरक्षा के मद्देनजर सभी देशों की सरकारों ने लॉक डाउन की घोषणा की है। भारत की जनता भी लंबे समय से कर्फ़्यू का पालन कर रही है। जनता की सुरक्षा के लिए लगाए गए कर्फ़्यू के कारण जो नागरिक जहां था वहीं फंस गया। रोजगार या अन्य कारणों से घर से दूर रह रहे लोग अचानक लगाए गए कर्फ़्यू के कारण घर नहीं लौट पाए, जिस कारण लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में पुलिस प्रशासन लोगों की समस्याओं का पूरी मुस्तैदी से निपटारा कर रही है। जरूरतमंदो को राशन से लेकर दवाइयां पहुंचाने का काम पुलिस बखूबी कर रही है। मुसीबत में फंसे लोगों की सेवाभाव की ऐसी ही मिसाल हैदराबाद पुलिस के इंस्पेक्टर लक्ष्मीनारायण रेड्डी ने पेश की है। इन्होंने न केवल लॉकडाउन की वजह से फंसे हुए व्यक्ति को अस्पातल में भर्ती कराया, बल्कि उसके मेडिकल का खर्च भी अपनी जेब से भरा। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस कार्य के लिए
न केवल उनकी प्रशंसा की बल्कि पत्र लिख कर उन्हें धन्यवाद भी दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here