कोरोना योद्धा के रूप में पंजीकृत हो सिविल डिफेंस वोलेंटियर्स ..सुरेश भारद्वाज

35 सिविल डिफेंस वोलेंटियर्स किए गए सम्मानित

0
244

नागरिक सुरक्षा के वोलेंटियर्स ऑफ ड्यूटी होते हुए भी आम जनता और समाज के प्रति सेवा कार्यों में समर्पित होते हैं। किसी भी प्रकार की आपदा में सिविल डिफेंस के वोलेंटियर्स मुस्तैद दिखते हैं। यह बात आज कानून, विधि एवं प्रदेश शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कोविड-19 वैश्विक महामारी की लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले कोरोना वारियर्स के सम्मान कार्यक्रम के दौरान कही। शिक्षामंत्री ने आज ऐतिहासिक रिज मैदान पर 35 कोरोना योद्धाओं को उनके द्वारा कोरोना संकट में किए जा रहे जनहित के कार्यों के लिए सम्मानित किया। इस मौके पर 10 महिला और 25 पुरूष नागरिक सुरक्षा कर्मियों को सम्मानित किया गया।


इस अवसर पर शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि  सिविल डिफेंस के वोलेंटियर्स बिना कुछ लिए जन सेवा  में तत्पर हैं। सरकारी तंत्र से जुड़ी एजेंसियों के कर्मचारी ,पुलिस कर्मी ,डॉक्टर्स,नर्सिस, सफाई कर्मचारी और अन्य विभागों के कर्मचारी तो ड्यूटी के तहत कार्य कर रहे हैं लेकिन नागरिक सुरक्षा के वोलेंटियर्स निस्वार्थ भाव से सेवा में जुटे हुए हैं। 
उन्होंने कहा कि बाकी कोरोना योद्धाओं की भांति इनका भी कोरोना योद्धा के रूप में पंजीकरण होना चाहिए। उन्होंने सिविल डिफेंस कर्मियों का धन्यवाद करते हुए कहा कि ये आपदाओं और महामारियों के मौके पर अपनी जान की परवाह किए बिना मानव सहायता में जुट जाते हैं। उन्होंने कहा कि आगजनी ,भूस्खलन और महामारियों आदि के समय पर सिविल डिफेंस के कर्मी अपने अदम्य साहस का परिचय देते हुए आम जनता की सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

सम्मानित कार्यक्रम के दौरान 35 नागरिक सुरक्षा कर्मियों को शिक्षा मंत्री ने प्रशस्ति पत्र देने के साथ ही मास्क भी दिए। इस अवसर पर डिविजनल वार्डन ब्रिज मोहन शर्मा,पोस्ट वार्डन संगीता सूद और प्रमोद हेलन उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here