मंदिर के खुलने से पहले ही मंदिर में पहुंचा कोरोना

विधानसभा ड्यूटी के लिए पहुंचे सीआईडी दल का कर्मी पाया गया कोरोना संक्रमित ,कालीबाड़ी धर्मशाला में सभी की ठहरने की व्यवस्था ,देर रात आई रिपोर्ट साथ ही किया गया मशोबरा डेडिकेटेड कोविड केअर सेंटर शिफ्ट

0
312

कालीबाड़ी मंदिर में ठहरे विधानसभा सत्र में ड्यूटी के लिए पहुँचा सीआईडी जवान कोरोना संक्रमित पाया गया है। उन्हें पूरे प्रोटोकॉल के तहत मशोबरा डेडिकेटेड कोविड केअर सेंटर शिफ्ट कर दिया गया है। सोमवार को दीन दयाल उपाध्याय जोनल अस्पताल में सभी सीआईडी और पुलिस कर्मियों का कोरोना टेस्ट किया गया था जिसकी रिपोर्ट देर रात आई और जिसमें इन सीआईडी कर्मी के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई हैI। देर रात 1 बजे उनको कोरेंटिंन कर दिया गया है। उन्हें इलाज के लिए मशोबरा डेडिकेटेड कोविड केअर सेंटर शिफ्ट कर दिया गया है। मंदिर परिसर को पूरी तरह से सेनेटाइज भी कर दिया गया है।

सोमवार से शुरू हो चुके मॉनसून विधानसभा सत्र में ड्यूटी के लिए कालीबाड़ी मंदिर की परिसर में स्तिथ धर्मशाला में राज्य के अन्य जिलों से सीआईडी और पुलिस कर्मी ठहरे हुए हैं। लगभग सीआईडी सहित 40 पुलिसकर्मियों की कालीबाड़ी धर्मशाला में ठहरने की व्यवस्था की गई है। इनमें से 4 सीआईडी कर्मी बिलासपुर जिला से संबंधित हैं। वहीं सिरमौर से 6 और ऊना जिला से 30 पुलिसकर्मी विधानसभा ड्यूटी के लिए ठहरे हुए हैं। जानकारी के अनुसार सोमवार को ही इनका कोरोना टेस्ट दीनदयाल उपाध्याय जोनल अस्पताल में हुआ था।

वहीं बड़े दिनों से सरकारी आदेशानुसार बंद चल रहे मंदिरों को 10 सितंबर को खोला जाना था लेकिन अब मंदिर खुलने से पहले ही मंदिर परिसर में कोरोना संक्रमित के पाए जाने से मंदिर के खुलने पर प्रश्नचिन्ह लग गया है। हालाकिं मंदिर प्रबंधन ने कल ही मंदिरों के लिए तैयार की गई एसओपी के तहत पूरी तैयारियां कर ली हैं। मंदिर की तमाम घंटियों को कपड़े से बांध दिया गया है साथ ही तस्वीरें भी कपड़े से पूरी तरह ढक दी गई हैं। मंदिर के भीतर श्रद्धालुओं का प्रवेश  पूरी तरह से  प्रतिबंधित रहेगा। भक्तगण मंदिर के द्वार से भी 1 फुट की दूरी से मां के दर्शन कर सकेंगे साथ ही कोई भी 1 मिनट से ज्यादा खड़ा नहीं रह सकता। साथ ही एक वक्त पर 12 श्रद्धालु ही मंदिर परिसर में प्रवेेेश कर सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here