मुख्यमंत्री हिम सुरक्षा अभियान का 24 नवंबर को करेंगे शुभारंभ

अभियान के तहत स्वास्थ्य कार्यकर्ता कोविड-19, तपेदिक, कुष्ठ रोग, मधुमेह और उच्च रक्तचाप आदि रोगों के लिए सभी लक्षणों की घर-घर जा करेंगे जांच

0
256

सचिव (स्वास्थ्य) अमिताभ अवस्थी ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर 24 नवंबर, 2020 को ऐतिहासिक रिज मैदान से हिम सुरक्षा अभियान का शुभारंभ करेंगे। उन्होंने कहा कि यह अभियान प्रदेश भर में 25 नवंबर से 27 दिसंबर 2020 तक आयुर्वेद, महिला एवं बाल विकास, पंचायती राज विभाग, जिला प्रशासन और विभिन्न गैर-सरकारी संगठनों के सहयोग से चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत स्वास्थ्य कार्यकर्ता कोविड-19, तपेदिक, कुष्ठ रोग, मधुमेह और उच्च रक्तचाप आदि रोगों के लिए सभी लक्षणों की घर-घर जाकर जानकारी एकत्र करेंगे।

अमिताभ अवस्थी ने कहा कि इस अभियान के लिए लगभग 8000 टीमों का गठन किया जाएगा। प्रत्येक टीम में दो सदस्य होंगे। कोविड-19, तपेदिक, कुष्ठ रोग, मधुमेह और उच्च रक्तचाप की बीमारियों के विभिन्न लक्षणों की जानकारी एक मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से एकत्र की जाएगी। यदि किसी व्यक्ति में कोई लक्षण पाया जाता है, तो आगे की जांच के लिए नमूने भी एकत्र किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत सभी को मुफ्त उपचार की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।

उन्होंने कहा कि अगर किसी को भी सर्दी, खांसी, बुखार, स्वाद या गंध की कमी, सांस लेने में कठिनाई आदि जैसे कोविड-19 के कोई लक्षण हैं, तो वे अपने घर पर आने वाले स्वास्थ्य कार्यकर्ता के साथ यह जानकारी साझा करें और अपनी जांच करवाएं। उन्होंने कहा कि अगर किसी को दो सप्ताह से अधिक समय तक खांसी, बुखार, बलगम में खून आना, वजन कम होना और सीने में दर्द आदि जैसे लक्षण हैं, तो वे अपने बलगम के नमूने की जांच करवाएं। इसी प्रकार, यदि कोई व्यक्ति मधुमेह, रक्तचाप, दमा, कैंसर आदि बीमारियों से पीड़ित है, तो वे भी अपनी जानकारी साझा करें ताकि ऐसे सभी लोगों पर विशेष निगरानी रखी जा सके।

उन्होंने आगे कहा कि राज्य में कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि राज्य में स्वास्थ्य संबंधी सभी प्रकार की पर्याप्त मात्रा में सुविधाएं उपलब्ध हैं। उन्होंने लोगों से रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए नियमित रूप से सुरक्षा उपाय अपनाने और बिना घबराए कोविड-19 की शुरुआती जांच सुनिश्चित करने का आग्रह किया ताकि संक्रमण की संभावना को नियंत्रित किया जा सके और यदि रिपोर्ट पाॅजिटिव पाई गई तो रोगी को समय पर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जा सकें।

उन्होंने कहा कि वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लोगों को केन्द्र और प्रदेश सरकार द्वारा समय-समय पर जारी दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करना चाहिए। उन्होंने लोगों से घर से बाहर निकलते समय सामाजिक दूरी के नियमों, मास्क और हैंड सैनिटाइजर का उपयोग करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि अच्छी तरह से हाथ धोए बिना नाक, आंख और मुंह को छूने से बचें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here