मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने किया आरोहण दल का फ्लैग-इन

पर्वतारोही दल व इस अभियान को सफल बनाने वाले सदस्यों को सीएम ने दी बधाई दी और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

0
94

क्षेत्रीय मुख्यालय शिमला भा.ति.सी.पुलिस बल पर्वतारोहण अभियान लियो पारगिल’ चोटी (ऊँचाई 22,222 फीट)-2020 कोड नाम-योद्धा के आरोहण दल का फ्लैग-इन दिनांक 22.09.20 को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा किया गया। ये चोटी हिमाचल प्रदेश जिला किन्नौर के जन्सकार रेंज में स्थित है व तकनीकी रूप से अत्यन्त कठिन चोटियों में से एक है। 28 सदस्यों के इस दल का फ्लैग-ऑफ दिनांक-20.08.20 को 17वीं वाहिनी भा.ति.सी.पु.बल रिकांगपिओ में प्रेम सिंह उप महानिरीक्षक शिमला द्वारा किया गया था। यह दल दिनांक-21.08.20 को नाको के लिए रवाना हुआ व दल ने अति दुर्गम रास्ते व मुश्किलों को पार करते हुए दिनांक-31.08.20 व 01.09.20 को लियो पारगिल चोटी को फतेह किया। पर्वतारोही टीम के नेता उप सेनानी/जीडी0 कुलदीप सिंह व उप नेता उप सेनानी/जीडी0 धर्मेन्द्र ठाकुर के नेतृत्व में कुल 12 सदस्यों द्वारा ‘लियो पारगिल’ चोटी का सफलतापूर्वक आरोहण किया गया। उक्त सदस्यों में शामिल किन्नौर के सीमावर्ती अन्तिम गांव छितकुल के रहने वाले हैड कान्स्टेबल/जीडी0 प्रदीप नेगी द्वारा दूसरी बार इस चोटी का सफलतापूर्वक आरोहण किया गया है एवं इससे पूर्व भी वह विश्व की सबसे ऊँची चोटी ‘माउण्ट एवरेस्ट’ को दो बार फतेह करने का कारनामा कर चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने पर्वतारोही दल व इस अभियान को सफल बनाने वाले प्रत्येक सदस्य को बधाई दी और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। मुख्यातिथि ने कहा कि इस तरह के अभियान बल के कर्मियों को नेतृत्व, आत्मीयता, अनुशासन और उनमें आत्मविश्वास की भावना विकसित करने के अलावा जवाबदेही और पहल के साथ अनिश्चित और गंभीर परिस्थितियों का सामना करने के लिए प्रशिक्षित करते उन्होंने यह भी कहा कि इस पर्वतारोहण अभियान ने पर्यावरण जागरूकता और स्वच्छता के संदेश को आगे बढाया है, उन्होने जिला किन्नौर और साथ ही पूरे हिमाचल प्रदेश में आई.टी.बी.पी.द्वारा किए गए विभिन्न बचाव कार्यों व भारत-चीन सीमा के सरंक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका की प्रशंसा की। प्रेम सिंह, उप महानिरीक्षक, क्षे.मु.शिमला द्वारा बताया गया कि भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस बल साहसिक खेलों जैसे चट्टान आरोहण, पर्वतारोहण, स्कीइग, रिवर-राफ्टिंग, माउण्टेन बाइकिंग एवं पैरा ग्लाइडिंग में भी अपना प्रभुत्व रखता है। और समय-समय पर इनका आयोजन भी करवाता रहता है। खेल के क्षेत्र में इस बल ने समय-समय पर राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर देश का प्रतिनिधत्व भी किया है जिसमें हिमाचल प्रदेश के हिमवीर खिलाड़ियों ने हमेशा ही देश को अपने प्रदर्शन से गौरवान्वित भी किया है।

विश्वव्याप्त कोरोना महामारी के दौरान भी इस प्रकार के पर्वतारोहण अभियान का आयोजन निश्चित ही समाज व देश के लिए एक सकारात्मक संदेश भेजता है। इस पर्वतारोहण अभियान का इसलिए भी अलग महत्व है के यह उत्तर भारत में इस वर्ष का प्रथम सफलतापूर्ण पर्वतारोहण अभियान बना है। इस अवसर पर प्रेम सिंह, उप महानिरीक्षक शिमला द्वारा मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को यह आश्वासन दिया गया कि आईटीबीपी भविष्य में भी साहसिक अभियान व खेलों के प्रति युवाओं को प्रेरित करने के लिए इनका आयोजन कराती रहेगी साथ ही अपने कर्तव्य का निर्वहन पूर्ण निष्ठा से करेगी व पूर्व की भाति जनहित के कार्यो में भी समय-समय पर अपना योगदान देती रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here