मुख्यमंत्री ने प्रदेश में किया प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का शुभांरभ

0
357
प्रदेश में प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का शुभांरभ करते हुए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मण्डी में प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का शुभांरभ किया जिसके तहत असंगठित क्षेत्र से जुड़े श्रमिकों को 3 हजार रुपये की मासिक पेंशन सुनिश्चित होगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने योजना के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि यह योजना असंगठित क्षेत्र के उन श्रमिकों को लाभान्वित करेगी जिनके पास आधार कार्ड तथा जनधन/अन्य बैंक खाते हैं और जिनकी आय 15 हजार रुपये से कम है।

उन्होंने कहा कि इस योजना के अंतर्गत 18 से 40 वर्ष तक के श्रमिक लाभान्वित होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह योजना स्वैच्छिक तथा अंशदान पर आधारित योजना है जिसके तहत 60 वर्ष की आयु के उपरांत लाभार्थी को कम से कम 3 हजार रुपये की मासिक पेंशन दी जाएगी। उन्होंने कहा कि योजना के अंतर्गत श्रमिक द्वारा अंशदान की अधिकतम सीमा 50 प्रतिशत तक हो सकती है, 50 प्रतिशत केन्द्र सरकार द्वारा दिया जाएगा। असंगठित क्षेत्र में कार्य कर रहे जरूरमंद लोगों के लिए पेंशन योजना आरंभ करने से प्रधानमंत्री की सभी जरूरमंद देशवासियों के कल्याण के प्रति प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना श्रमिकों एवं उनके परिवारों को आर्थिक सहायता देने में मील-पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि इस योजना के अंतर्गत असंगठित क्षेत्र के लाखों श्रमिक लाभान्वित होंगे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस योजना के अंतर्गत अधिक से अधिक श्रमिकों को पंजीकृत करना सुनिश्चित करें, जिससे लाभार्थियों तक इसका लाभ पहुंच सकें। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर यह भी कहा कि अभी हाल ही में प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत दो हेक्टेयर या इससे कम भूमि वाले सभी कृषकों को 6 हजार रुपये प्रतिवर्ष की आय सुनिश्चित की है। उन्होंने कहा कि अब तक राज्य में इस योजना के अंतर्गत कृषकों के खातों में 30 करोड़ की राशि जमा की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि यह सभी योजनाएं सरकार की आमजन के सामाजिक एवं आर्थिक विकास के प्रति प्रतिबद्धता को दर्शाती है। जय राम ठाकुर ने कहा कि देश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में सुरक्षित है।

उन्होंने कहा कि पुलवामा के आतंकी हमले का देश ने पाकिस्तान को करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि यह भारत के कुटनीतिक प्रयासों का ही प्रभाव है कि पाकिस्तान आज वैश्विक स्तर पर अलग-थलग हो गया है। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि वे मजबूत राष्ट्र के लिए प्रधानमंत्री के हाथ मजबूत करें। उन्होंने कहा कि मण्डी को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मण्डी में शिव धाम एवं कृत्रिम झील के निर्माण के लिए भी प्रयास किए जा रहे हैं। ऊर्जा मंत्री एवं स्थानीय विधायक अनिल शर्मा ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि आज तक असंगठित क्षेत्र के श्रमिक पेंशन से वंचित थे तथा इस योजना के शुभारंभ से श्रमिकों को मासिक आय सुनिश्चित होगी। उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने जानकारी देते हुए कहा कि इस योजना के अंतर्गत असंगठित क्षेत्र के रिक्शा चालक, मिस्त्री, बीड़ी मजदूर, ईंट भट्ठा/चमड़ा उद्योग/हस्तशिल्प और हथकरघा में कार्य करने वाले श्रमिक लाभान्वित होंगे। लोकसभा सांसद राम स्वरूप शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी ने इस योजना का शुभारंभ अहमदाबाद से किया, जिससे देशभर के श्रमिकों के आर्थिक उत्थान में सहायता मिलेगी। श्रम आयुक्त एस.एस. गुलेरिया ने मुख्यमंत्री एवं अन्य गणमान्यों का स्वागत किया तथा इस योजना की विशेषताओं से भी अवगत कराया।

उन्होंने जानकारी दी कि इस योजना के लाभ पाने के लिए असंगठित क्षेत्र से जुड़े श्रमिकों को 55 रुपये से 200 रुपये (आयु के अनुसार) तक की मासिक अंशदान अदा करना होगा जिसका लाभ उन्हें पंजीकरण के उपरांत पेंशन कार्ड के माध्यम से मिलेगा। विधायक कर्नल इन्द्र सिंह, विनोद कुमार, जवाहर ठाकुर, प्रकाश राणा, इन्द्र सिंह गांधी, मिल्कफेड अध्यक्ष निहाल चंद शर्मा, जिला परिषद की अध्यक्षा सरला ठाकुर, नगर परिषद मण्डी की अध्यक्षा सुमन ठाकुर, बाल विकास परिषद की महासचिव पायल वैद्य, वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष राजबली, उपायुक्त मण्डी ऋग्वेद ठाकुर भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here