मुख्यमंत्री ने किन्नौर जिला में 62.17 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की

विकासात्मक परियोजनाओं का किया गया लोकार्पण और शिलान्यास ।

0
342

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज शिमला से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किन्नौर जिला में 62.17 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए।

जय राम ठाकुर ने रिकांगपिओ स्थित क्षेत्रीय अस्पताल के 2.55 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित ओपीडी ब्लाॅक और जेरियाट्रिक वार्ड, हंगो/चूलिंग में 1.06 करोड़ रुपये से निर्मित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भवन, लियो में 90 लाख रुपये की लागत से निर्मित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भवन, 1.16 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला लिप्पा के भवन, 1.75 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पांगी के भवन, 84 लाख रुपये की लागत से निर्मित राजकीय माध्यमिक पाठशाला युवारिंगी के भवन, रिकांगपिओ स्थित 4.21 करोड़ रुपये से निर्मित जवाहर नवोदय विद्यालय परिसर भवन, पूह में 1.79 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित स्टेडियम और सांगला तहसील में 6.52 करोड़ रुपये की लागत की बहाव सिंचाई योजना कामरू, सांगला में 4.16 करोड़ रुपये की लागत से मलनिकासी प्रणाली, 63 लाख रुपये लागत से सांगला के लिए ठोस कचरा प्रबंधन, कामरू ग्राम पंचायत के बदंग में 32 लाख रुपये से निर्मित गौ सदन, सापनी में 90 लाख रुपये लागत से निर्मित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, बारा कम्बा में 71 लाख रुपये की लागत से निर्मित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भवन और टापरी में स्थित दो करोड़ रुपये की लागत से निर्मित मार्केट यार्ड और कृषि उत्पाद विपणन परिसर के लोकार्पण किए।

मुख्यमंत्री ने रिकांगपिओ में 14.20 करोड़ रुपये की लागत से बहुमंजिला पार्किंग, रिकांगपिओ और कल्पा तहसील के समीपवर्ती क्षेत्रों के लिए तीन करोड़ रुपये लागत की उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, उपायुक्त कार्यालय रिकांगपिओ के समीप 45 लाख रुपये से हेड स्टोरेज जलाशय, निचार तहसील के कटगांव में 2.51 करोड़ रुपये के बाढ़ नियंत्रण कार्य, कामरू में 38 लाख रुपये लागत से मुख्यमंत्री लोक भवन, सांगला में 93 लाख रुपये लागत की बहुद्देशीय पार्किंग, भावानगर में 4.66 करोड़ रुपये लागत के सराय भवन, कफनू में 78 लाख रुपये लागत के हेलीपैड, टापरी में 2.39 करोड़ रुपये लागत के संयुक्त कार्यालय भवन और लिप्पा से कारला के लिए 3.37 करोड़ रुपये लागत की बहाव सिंचाई योजना के शिलान्यास किए।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि किन्नौर जिला के लोगों के लिए यह एक ऐतिहासिक दिन है, क्योंकि क्षेत्र की जनता के लिए आज 62.17 करोड़ रुपये लागत की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की गई हैं। इसी प्रकार देश के लोगों के लिए भी यह एक स्वर्णिम दिन है, क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज भगवान श्री राम के मंदिर का भूमि पूजन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इससे भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त होगा।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार जनजातीय क्षेत्रों के विकास पर विशेष बल देे रही है, क्योंकि यह क्षेत्र अन्तरराष्ट्रीय सीमा के साथ लगते हैं। उन्होंने कहा कि इन क्षेत्रों में अधोसंरचना जैसे सड़क, संचार, ऊर्जा और जलापूर्ति के सुदृढ़ीकरण पर विशेष बल दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इन क्षेत्रों के विकास के लिए पर्याप्त निधि उपलब्ध करवा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र के काॅग्रेस नेता द्वारा इस क्षेत्र में काॅग्रेस कार्यकाल के दौरान विकास के बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हंै, जबकि हकीकत में जमीनी स्तर पर कुछ भी नही हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने एक ही दिन में क्षेत्र के लिए 30 करोड़ रुपये की परियोजनाएं समर्पित की हैं। उन्होंने कहा कि जिले में लोगों को सड़क सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए सीमा सड़कों पर 84 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं क्षेत्र की 65 पंचायतों में 60 पंचायतों को सड़क से जोड़ा जा चुका है, शेष पंचायतों को भी शीघ्र ही सड़कों से जोड़ा जाएगा।

इस अवसर पर जिला किन्नौर की विकासात्मक यात्रा पर आधारित वृतचित्र भी प्रदर्शित किया गया।

मण्डी संसदीय क्षेत्र के सांसद रामस्वरूप शर्मा ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार के अढ़ाई वर्ष के कार्यकाल में प्रदेश में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने राज्य सरकार द्वारा आरम्भ की गई विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की भी विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने राज्य सरकार द्वारा कोरोना महामारी से निपटने के लिए उठाए गए प्रभावी कदमों की सराहना की।

हिमाचल प्रदेश राज्य वन निगम के उपाध्यक्ष सूरत नेगी ने मुख्यमंत्री व अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया। उन्होंने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले में करोड़ों रुपये की परियोजनाएं समर्पित करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि जिला की सभी 65 पंचायतें राज्य सरकार की विकासात्मक योजनाओं का लाभ उठा रही हैं।

कृषि, ग्रामीण विकास, पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर, विधायक अर्जुन सिंह व जीतराम कटवाल, अध्यक्ष विपणन बोर्ड बलदेव भण्डारी, अध्यक्ष एपीएमसी शिमला-किन्नौर नरेश शर्मा, मुख्यमंत्री के सलाहकार डाॅ. आर.एन. बत्ता, उपायुक्त किन्नौर गोपाल चन्द तथा अन्य गणमान्य भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here