उपलब्धियां गिनाने की जगह लोगों को राहत पहुंचाने का प्रयास करें भाजपा सरकार ..कुलदीप राठौर

वर्चुअल रैलियां कर अपना राजनैतिक एजेंडा पूरा कर रही है

0
178


कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर ने भाजपा सरकार पर  उनके द्वारा की जा रही वर्चुअल रैलियों के लिए निशाना साधा है। उन्होंने आज मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि भाजपा कोविड -19 के  संकट के समय में राजनैतिक हित साधने से बाज नहीं आ रही है। इस महामारी के समय जब देश की जनता समस्याओं से घिरी हुई है और सरकार से राहत की उम्मीद लगाए हुए है ऐसे में भाजपा सरकार बनाने की कवायदें चला रही है।

उपलब्धियां न गिनाएं सरकार:

उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह ,केंद्रीय मंत्री रविशंकर और स्मृति ईरानी द्वारा की जा रही रैलियों की निंदा करते हुए कहा कि सरकार अपनी और प्रधानमंत्री की उपलब्धियां गिनाने की जगह लोगों को राहत पहुंचाने का प्रयास करें।  प्रदेशाध्यक्ष राठौर ने कहा कि भाजपा सरकार कोरोना से लड़ने की जगह राजनीति करने में व्यस्त हैऔर आज देश कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों के कारण विश्व भर में पांचवें स्थान पर पहुंच गया है। कोरोना देश के लिए गंभीर चुनौती बन गया है लेकिन सरकार कोरोना से लड़ने को एजेंडा बनाने की जगह  राजनैतिक एजेंडे बना रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के आलाकमान सोनिया गांधी और राहुल गांधी कोविड-19 से लड़ रहे हैं और लोगों से मिलकर उनकी इस समस्या से निपटने में सहायता कर रहे हैं। 

रैलियों पर हो रहे खर्चों का ब्यौरा दे सरकार:

पिछले कुछ महीनों से अनुपस्थित केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर टिप्पणी करते हुए कुलदीप राठौर ने कहा कि अमित शाह रैलियां संबोधित कर रहे हैं और इन रैलियों में प्रयोग किए जा रहे एलईडी पर करोड़ों रुपये खर्च किए जा रहे हैं जबकि देश की जनता गरीबी से जूझ रही है। साथ ही उन्होंने सरकार से खर्च किए जा रहे रूपयों का ब्यौरा  देने के लिए भी कहा ।

प्रदेश सरकार सेब मालिकों की समस्याओं का करे ठोस उपाय :

वहीं कुलदीप राठौर ने प्रदेश सरकार से भी प्रदेश की सेब की आर्थिकी को सुदृढ़ करने के प्रयासों पर बल देने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि 5हजार करोड़ की आर्थिकी का सेब सीजन आने वाला है और सेब मालिकों को मजदूरों की कमी की समस्याओं का सामना न करना पड़े इसके लिए सरकार को ठोस और सुचारू व्यवस्था करनी चाहिए। उन्होंने जयराम सरकार से मांग कि है कि मजदूरों को एचआरटीसी की बसों में  निशुल्क लाने की व्यवस्था की जानी चाहिए साथ ही बाहर से आने वाले व्यापारियों को भी रियायत दी जाए । 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here