राजनीति में यह पहली बार जब जनादेश को चुराने का सरकार कर रही प्रयास: राठौर

दी चेतावनी: लोकतंत्र की हत्या न करे सरकार

0
73

शिमला : कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि वह नगर निकाय व पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव परिणामों के बाद प्रदेश में आतंक और भय का माहौल बना कर लोगों में दहशत फैलाने की कोशिश कर रही है।उन्होंने कहा है कि इन चुनावों के बाद प्रदेश में लोकतंत्र की हत्या की जा रही है।जीते हुए लोगों की बोली लगा कर उन्हें सब्ज़ी मंडी की तरह खरीदा जा रहा है।

आज यहां पत्रकारों को संबोधित करते हुए कुलदीप राठौर ने कहा कि प्रदेश में चुनाव मजाक बन कर रह गए है। उन्होंने कहा कि मशोबरा ब्लॉक में कांग्रेस समर्थित बीडीसी सदस्य दीपराम को भाजपा के लोग अगवा कर उसे दीपकमल ले गए। बाद में उसे सात दिनों तक जगह-जगह घुमाया गया,यहां तक की दीपराम का फोन तक छीन लिया गया। उन्होंने कहा कि वैसे तो पुलिस महानिदेशक को इस खबर का स्वतः संज्ञान लेते हुए एफआईआर दर्ज करनी चाहिए थी पर अभी तक ऐसा नही हुआ। उन्होंने कहा कि एक चुने हुए प्रतिनिधि को इस प्रकार बंधक बनाना पूरी तरह गैर कानूनी काम था।उन्होंने कहा कि इस समय प्रदेश में दो तरह के कानून चल रहें है। एक कानून भाजपा के लिए है तो दूसरा कांग्रेस और आम लोगों के लिए। कांग्रेस नेताओं पर तो धड़ाधड़ पुलिस मामलें बनाए जा रहें है जबकि भाजपा पर कोई भी मामला नही बनता।
राठौर ने कहा कि वह इस पूरे मामलें और प्रदेश में लोकतंत्र हनन की शिकायत राज्यपाल से करेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा चोर दरवाजे से जनादेश को बदलने का प्रयास कर रही है।
राठौर ने कहा कि पूरे प्रदेश में कांग्रेस समर्थित जीते हुए लोगों को डरा धमकाकर प्रलोभन देकर उन्हें अपने पक्ष में करने के पूरे प्रयास किये जा रहें है। उन्होंने कहा कि भाजपा सत्ता का दुरुपयोग कर अधिकारियों के द्वारा दवाब बना रही है।मुख्यमंत्री समेत मंत्रियों के कार्यलय इन चुनाव परिणामों को प्रभावित करने के पूरे तानेबाने में जुटे है। उन्होंने कहा कि उन्होंने कांग्रेस के लोगों को ऐसे सभी अधिकारियों की सूची बना कर उन्हें भेजने को कहा है,जो इस अनैतिक कार्यों में भाजपा के साथ मिल कर जनादेश को प्रभावित करने में अपनी भूमिका निभा रहे हैं।
राठौर ने कहा कि भाजपा ने इन चुनावों में प्रभावित करने के लिए शुरू से ही अनैतिक हथकंडे अपनाए गए। इसके रोस्टर से अपने लाभ के लिए छेड़छाड़ तक की गई।
राठौर ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि वह प्रदेश में होने वाले नगर निगम के चुनावों को पार्टी चिह्न पर करवाये, जिससे दूध का दूध और पानी का पानी हो सकें और उन्हें अपनी व अपनी पार्टी की लोकप्रियता का पूरा पता चल सकें।उन्होंने मुख्यमंत्री से बीडीसी व जिला परिषद के चुनावों में पार्टी प्रत्यशियों की उस सूची को जारी करने को कहा है जो जीत कर आये है।
राठौर ने कहा है कि प्रदेश के इतिहास में यह पहली बार हुआ है जहां जनादेश को चुराने के लिए इतने निम्न स्तर पर कोई सरकार गई हो।उन्होंने कहा कि यह सब भाजपा की अधिनायकवादी सोच को दर्शाती है।
राठौर ने सरकार को चेताया है कि वह अपनी इन ओछी हरकतों से बाझ आये और लोकतंत्र का अपमान करने की कोशिश न करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here