सेब सीजन को लेकर तैयार प्रशासन.. सुरेश भारद्वाज

सड़क मरम्मत, यातायात से लेकर पर्याप्त मात्रा में कार्टन उपलब्ध करवाने के दिए निर्देश

0
209

सेब सीजन के दौरान जिला में बागवानों को बगीचों में  करने के लिए मजदूरों की कमी न हो, इसके लिए प्रत्येक स्तर पर तैयारियां की जा रही हैं। शिक्षा, विधि एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने आज यह जानकारी शिमला के बचत भवन में सेब सीजन की तैयारियों को लेकर बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। 

मजदूरों के संबंध में नेपाल सरकार तथा अन्य राज्यों के साथ की जा रही है बातचीत:

उन्होंने कहा कि इस संबंध में मुख्यमंत्री द्वारा केन्द्र के माध्यम से नेपाल सरकार तथा अन्य राज्यों के साथ भी बातचीत की जाएगी ताकि सेब सीजन के दौरान बाहर मजदूरों की उपलब्धता सुनिश्चित हो सके। उन्होंने बताया कि प्रदेश के दूसरे राज्यों से जिला शिमला में आने वाले मजदूरों को यातायात का भी उचित प्रबंध किया जाएगा। 

सड़के दुरूस्त करवाने के लोक निर्माण विभाग को निर्देश :

उन्होंने बरसात से पहले 30 जून, 2020 तक जिला शिमला में सभी सड़के दुरूस्त करवाने के लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिए ताकि सेब सीजन के दौरान बागवानों को अपना उत्पाद मंडियों तक भेजने किसी प्रकार की कोई असुविधा न आए। उन्होंने सैंज से फेडस सड़क, रोहड़ू से शिमला, छैला से निरीपुल, ढली से शोघी तथा किंगल से धामी सड़कों को भी मुरम्मत करने तथा जिला में निर्मित पुलों का निरीक्षण कर उनकी मुरम्मत करने के लिए लोक निर्माण विभाग को दिशा निर्देश जारी किए। उन्होंने जल शक्ति व विद्युत विभागों को भी संबंधित क्षेत्रों को सुचारु रखने के लिए तत्परता के साथ कार्य करने को कहा ताकि बरसात के दौरान किसी प्रकार की अव्यवस्था उत्पन्न न हो।

गाड़ियों की उपलब्धता और भाड़ा दर निर्धारण के निर्देश:

उन्होंने कहा कि सीजन के दौरान सेब की ढुलाई के लिए गाड़ियों की उपलब्धता के लिए उपमंण्डलाधिकारी अपने क्षेत्र की ट्रक, पिकअप यूनियन तथा स्थानीय बागवान संघों से बातचीत कर भाड़े दर के निर्धारण की जानकारी उपायुक्त को उपलब्ध करवाएगें ताकि इस संबंध में चर्चा कर अधिसूचना जारी की जा सके।

सेब के कार्टन तथा बाॅक्स की नहीं होने दी जाएगी कमी :

उन्होंने कहा कि बागवानों को सेब के कार्टन तथा बाॅक्स की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने इस संबंध में अधिकारियों को कार्टन तथा बाॅक्स की समय पर उपलब्धता सुनिश्चित करवाने को कहा। उन्होंने कहा कि इनकी गुणवत्ता तथा दरों के मामलें में किसी प्रकार का समझौता सहन नहीं किया जाएगा।उन्होंने सब्जी मण्डी में सीजन के दौरान नियमित तौर पर निरीक्षण करने के आदेश संबंधित अधिकारियों को दिए।

बाहर से आने वाले ड्राईवर तथा कंडक्टर को क्वाॅरेंटाइन करने के निर्देश:

उन्होंने सीजन के दौरान गाड़ियों में बाहर से आने वाले ड्राईवर तथा कंडक्टर को क्वाॅरेंटाइन करने के निर्देश उपमण्डलाधिकारियों को दिए ताकि कोरोना संक्रमण से बचा जा सके। उन्होने जिले में विभिन्न स्थानों पर कन्ट्रोल रूम तथा सब कन्ट्रोल रूम को 15 जुलाई, 2020 से पहले स्थापित करने के निर्देश जारी किए, जिसमें सीजन के दौरान का मुख्य कन्ट्रोल रूम फागू में स्थापित किया जाएगा जहां पर टेलीफोन, फैक्स आदि स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि एम.आई.एस. के तहत बागवानों को उनकी राशि का भुगतान किया जा रहा है।

बैठक में उपस्थित रहे अधिकारी:

 बैठक में सांसद सुरेश कश्यप, विधायक बलवीर वर्मा, एपीएमसी के अध्यक्ष नरेश शर्मा, उपायुक्त शिमला अमित कश्यप, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (कानून एवं व्यवस्था) प्रभा राजीव, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (प्रोटोकाॅल) संदीप नेगी, प्रबंध निदेशक एच.पी.एम.सी. देवा श्वेता बनिक, प्रबंध निदेशक हिमफैड के.के. शर्मा, जिला के सभी उपमण्डलाधिकारी एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here