अंतर्राष्ट्रीय मेला श्रीरेणुका के लिए प्रशासन ने जारी की एसओपी

कोरोना की रोकथाम को लेकर एसओपी का पालन जरूरी: डीसी

0
15

नाहन: सिरमौर जिला प्रशासन ने अंतरराष्ट्रीय मेला श्रीरेणुकाजी के आयोजन को लेकर एसओपी जारी कर दी है। जिला दंडाधिकारी सिरमौर डॉ. आरके परूथी ने कहा कि रेणुका मेला 24 से 30 नवंबर तक मनाया जाना प्रस्तावित है। लेकिन, कोरोना महामारी से उत्पन्न स्थिति के कारण इस मर्तबा मेले में महज परंपराओं का निर्वहन किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि मेले के दौरान कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए श्रद्धालुओं को प्रशासन द्वारा जारी एसओपी का पालन करना अनिवार्य होगा। मेले में मूर्ति छूना वर्जित रहेगा। शोभायात्रा अथवा मेले में आने वाले सभी देवालुओं व आमजनों को हर समय मास्क लगाना या चेहरे को ढकना अनिवार्य होगा। इसके साथ साथ सामाजिक दूरी बनाए रखना जरूरी है। सभी देवालुओं को अनिवार्य रूप से हाथ धोना अथवा सैनिटाइज करना, देवताओं के दर्शन के लिए कतार में चिन्हित स्थानों पर खड़ा होना, सुबह व शाम सभी मंदिरों को सैनिटाइज करना, उपयोग किए गए मास्क, दस्ताने इत्यादि के निस्तारण हेतु अलग से कूड़ेदानों की व्यवस्था करनी होगी। शोभायात्रा व देवताओं के साथ आने जाने वाले सभी देवालुओं व बजंतरियों के लिए कोरोना (कोविड-19) जांच करवाना अनिवार्य होगा। सभी श्रद्धालु व देवालु आरोग्य सेतु ऐप का उपयोग करेंगे। सभी देवलुओं, कारगारों, बजंतरी जो देवताओं के साथ मेले में भाग लेने हेतु आएंगे, वह अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखेंगे। उन्होंने बताया कि 65 वर्ष की आयु के व्यक्तियों, गर्भवती महिलाओं व 10 वर्ष से कम आयु के बच्चों को मेले में न आने का परामर्श दिया गया है। इन आदेशों की अवहेलना पर नियमानुसार दंडात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here