कोरोना से निपटने के लिए बड़े दिलवाले की पहल, आइसोलेशन सेंटर बनाने के लिए 55 बीघा कृषि भूमि देने की पेशकश

0
356
Dr Virkram Sharma


कोरोना से निपटने के लिए बड़े-बड़े ओद्योगिक घराने सामने आकर मदद करने से कतरा रहे हैं, वहीं हिमाचल प्रदेश के कृषि वैज्ञानिक डाॅ विक्रम शर्मा ने अपनी 55 बीघा कृषि भूमि को सरकार को कोरोना से निपटने के लिए आईसोलेशन सेंटर बनाने के लिए निशुल्क देने की पेशकश की है। पर्यावरण संरक्षण और हरित आवरण को बढ़ाने में अग्रणी रहने वाले इस कृषि वैज्ञानिक ने जिस जमीन को सरकार को देने की पेशकश की है, वह भूमि तीन हमीरपुर, बिलासपुर और मंडी जिलों के बाॅर्डर में पंतेहड़ा पंचायत में स्थित है। डाॅ विक्रम ने बताया कि इस भूमि में बीजली, पानी और सड़क की पूरी सुविधा है जिससे सरकार को इस स्थान में आइसोलेशन सेंटर स्थापित करने में किसी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। इतना ही नहीं उनका कहना है यह भूमि किसी भी प्रकार की रिहाईश से 3-4 किलोमिटर की दूरी पर है, जिससे किसी गांव में कोरोना वायरस के फैलने का खतरा भी नहीं है। डाॅ विक्रम ने बताया कि उनके इस फैसले मंे उनके परिवार और गांववालों ने भी सहर्ष स्वीकार किया है। 
हिमाचल के बिलासपुर जिला से संबंध रखने वाले डाॅ विक्रम शर्मा का कहना है कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रत्येक व्यक्तियों को अपने सामथ्र्य के हिसाब से आगे बढ़कर मदद करनी चाहिए। उन्होंने कहा यदि आप किसी की मदद नहीं कर सकते हैं तो अपने आप को लाॅकडाउन करके ही इस वायरस को आगे बढ़ने से रोकने की दिशा में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं।
हिमाचल में अभी तक कारोना वायरस से एक व्यक्ति की मृत्यू हुई है। अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान ने बताया कि 23 मार्च को अमेरिका से लौटे 69 वर्षिय तेंजिन छोपेल की मौत टांडा मेडिकल काॅलेज में हुई है। उन्होंने बताया कि तेंजिन 15 मार्च को अमेरिका से दिल्ली लौटा था और वहां कुछ दिन रहने के बाद 21 मार्च को टैक्सी से धर्मशाला पहुंचा था इसके बाद 23 मार्च को इसकी तबीयत खराब होने के चलते इसे प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया जहां पर तबीयत अधिक खराब होने के चलते टांडा मेडिकल काॅलेज ले जाया गया जहां इसकी मौत हो गई। आरडी धीमान ने बताया कि व्यक्ति से जुड़े सभी लोगों को कोरोंटिन किया गया है। वहीं जो लोग शेष बच गए हैं उनकी पहचान पता लगाकर उन्हें भी कोरोंटिन किया जा रहा है।
गौर रहे कि दूनिया में अभी तक कारोना वायरस से पौने सात लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं और भारत में इससे 1000 लोगों के संक्रमित होने की पूष्टि हो चुकी है। देश में अभी तक 20 लोगों की जान जा चुकी है। वहीं पहाड़ी राज्य हिमाचल भी कोरोना वायरस के संक्रमण से बच नहीं पाया है। हिमाचल में अभी तक एक व्यक्ति की मौत के साथ दो अन्य लोगों के कोराना वायरस पाॅजीटिव पाया गया है। कोराना के लगातार फैलते संक्रमण को देखते हुए भारत में लाॅकडाउन किया जा चुका है। जिसमें हिमाचल प्रदेश भी शामिल है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here