चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार हूं…सुरेश कश्यप

2022 में भाजपा को सत्ता में लाने के लिए किए जाएंगे प्रयास

0
122


नवनिर्वाचित प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप आज बतौर प्रदेशाध्यक्ष मीडिया से पहली बार रूबरू हुए। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि वह पार्टी द्वारा दी गई जिम्मेदारी को निभाने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि फौज में रहते हुए उन्होंने कर हर विपरीत परिस्थिति का सामना करना सीखा है लेकिन निश्चित रूप से राजनैतिक और फौज की चुनोतियाँ अलग-अलग हैं पर फिर भी वह हर चुनौतियों का सामना करने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं साथ ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की उम्मीदों पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे
उन्होंने कहा कि बतौर प्रदेशाध्यक्ष उनकी प्राथमिकता पार्टी को सशक्त करना है। उन्होंने कहा कि उनका आगामी लक्ष्य पार्टी की सुदृढ़ता बनाए रखना है। उन्होंने कहा कि पार्टी आज जिस ऊंचाई पर खड़ी है उसे ऊंचाई को और आगे ले जाना है।उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य पार्टी को पंचायत ,कॉर्पोरेशन और 2022 में भारतीय जनता पार्टी को फिर से सत्तारूढ़ करना है और वह पार्टी हित और अपने लक्ष्य को पूरा करने में हर संभव प्रयास करेंगे।

विधायकों में नहीं किसी प्रकार की नाराजगी :

वीरवार को पीटरहॉफ में संपन्न हुई बैठक दल में कुछ विधायक शामिल नहीं हुए इस पर सुरेश कश्यप ने पार्टी के अंदर बीजेपी नेताओं की विधायक बैठक दल में अनुपस्थिति पर स्तिथि स्पष्ट करते हुए कहा कि विधायकों में किसी प्रकार की नाराजगी नहीं है और न ही कहीं कोई गुटबाजी है। विधायक अपने निजी कारणों से विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं हो सके।

पीएम मोदी का जताया आभार:

सुरेश कश्यप ने प्रेस वार्ता के दौरान पीएम मोदी के का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि उनके नेतृत्व में केंद्र सरकार के एक वर्ष के कार्यालय का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में देश आर्थिक रूप से सशक्त हुआ है।वहीं कोरोना महामारी से निपटने के लिए और आम जनता की सुरक्षा के मद्देनजर उनके द्वारा सही समय में निर्णय लिए गए।सही समय पर लगाए गए लॉक डाउन के चलते मिले समय का सदुपयोग चीन से आयात की जाने वाले चिकित्सा साधनों का निर्माण करने में किया गया। सुरेश कश्यप ने कहा कि विश्वभर में कोरोना की मृत्युदर 4 % लेकिन भारत देश में 2.8%, है।

प्रदेश सरकार महामारी की रोकथाम के लिए प्रयासरत:

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने भी कोरोना काल में कई जनहित में कार्य किए। प्रदेश पहला राज्य है जहां हर गृहणी को धुंए से निजात मिली है। उन्होंने कहा कि
प्रदेश कोरोना की महामारी से जूझ रही है लेकिन सरकार संगठित रूप से इस महामारी की रोकथाम के लिए प्रयासरत है। आज सरकार फीड द नेशन के तहत जरूरतमंदों को राशन दे रही है।

विपक्ष पर प्रहार :

विपक्ष पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि विपक्ष दुर्भाग्यपूर्ण कार्य कर रही है। पार्टी को सहयोग देने की जगह अलग-अलग टुकड़ों में बंटी कांग्रेस बिना वजह राजनीति और निराधार बयानबाजी कर रही है। उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले लोगों के कारण निसंदेह कोरोना संक्रमण बढ़ा लेकिन स्तिथि नियंत्रण में है। कांग्रेस अपने ही प्रदेश के लोगों को लाने का विरोध करती रही। उन्होंने कांग्रेस पार्टी से कहा कि वह सरकार के साथ मिल कर कोरोना से लड़ने में सहयोग दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here