प्रदेश में फंसे 168 विदेशी,190 स्वदेशी पर्यटक अब जा सकेंगे घर….

12 मई से ट्रेनों की छुकछुक, 17 से हवाई उड़ाने शुरू

0
155


पीएम मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ हुई बैठक में रेल सेवा चलाने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है जोकि अन्य राज्यों में फंसे देशी-विदेशी पर्यटकों के लिए राहत की खबर है। देश के विभिन्न राज्यों में लॉक डाउन के चलते सैंकड़ों पर्यटकों के लिए इस निर्णय ने उनके घर जाने की राह खोल दी है। बात अगर हिमाचल प्रदेश की करें तो यहां भी लॉक डाउन के चलते बढ़ी संख्या में पर्यटक फंसे हुए हैं और घर जाने की बाट जोह रहे हैं। पर्यटक नगरी होने के कारण प्रदेश के विभिन्न जिलों में राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक घूमने पहुंचे हुए थे लेकिन असंभाविक कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते लगाए गए कर्फ़्यू में फंस कर रह गए थे।

प्रदेश के कांगड़ा, कुल्लू,मंडी,शिमला और सिरमौर जिलों में लगभग 358 पर्यटक फंसे हुए हैं जिनमें से  शिमला जिले को छोड़ कर बाकी के अन्य जिलों में 168 विदेशी पर्यटक फंसे हुए हैं जबकि शिमला समेत सभी जिलों में देशी पर्यटक 190 फंसे हैं। कांगड़ा में सबसे ज्यादा 99 विदेशी पर्यटक हैं जबकि कुल्लू में सबसे ज्यादा 70 देसी पर्यटक फंसे हुए हैं।  सबसे ज्यादा 21 इज़राइली,20 रशियन और 14 अमेरिकन नागरिक प्रदेश में हैं। वहीं देसी पर्यटकों में से सबसे ज्यादा 122 पश्चिम बंगाल के पर्यटक राज्य के शिमला, कुल्लू, कांगड़ा और मंडी में हैं।अब दिल्ली से ट्रेनें चलने से यह लोग घर जा सकेंगे। इन्हें केवल दिल्ली तक का सफर करना है। यह ट्रेनें 12 मई से राजधानी दिल्ली से चलाई जाएगीं।15 शहरों में चलाई जाने वाली यह सभी एसी ट्रेनें हैं और आज शाम 4 बजे से बुकिंग भी शुरू की जा चुकी है। कंफर्म ई-टिकट के होने पर ही यात्रा की जा सकती है।इसके साथ ही केंद्र सरकार जल्द ही 17 मई से  विमान सेवा भी शुरू करने जा रही है।

यात्रा के लिए रेलवे विभाग की शर्तें:

1. सोशल डिस्टेंसिंग अपनानी होगी ।

2. 54 यात्री ही कर बैठ सकेंगे एक कोच में।

3. कंफर्म ई-टिकट होने पर ही यात्रा संभव।

4. हेल्थ प्रोटोकॉल का करना होगा पूरी तरह पालन।

सोशल डिस्टेंसिंग अपनाए, सतर्क रहें सुरक्षित रहें TMnewshub

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here