मंडी शहर में निकले 2 कोरोना संक्रमितों ने बढ़ाई सीएम जयराम ठाकुर की सराज विधानसभा की परेशानी

संक्रमित तीन दिन पहले कांडा के कोरोना पाजिटिव के साथ उसकी गाड़ी में नेरचौक से गए मंडी

0
65

मंडी: हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला के मंडी शहर में बुधवार को आए दो कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के मामले ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के विधानसभा क्षेत्र सराज में भी हड़कंप मचा दिया है। मामले संक्रमित व्यक्ति मूलतः सराज विधानसभा क्षेत्र के रहने वाले हैं और हाल ही दिनों में अपने गृह क्षेत्र में रह कर गए हैं। वहीं दोनों संक्रमित डेडिकेटेड कोविड अस्पताल एवं लाल बहादुर शास्त्री मैडिकल कालेज नेरचौक मे कैंटीन चलाते हैं।

जानकारी के अनुसार संक्रमित तीन दिन पहले कांडा के कोरोना पाजिटिव के साथ उसकी गाड़ी में नेरचौक से मंडी गए थे। दो दिन पहले जब चालक की कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई तब वह ठेकेदार सहित धर्मशाला के लिए निकल गया था। उसके कोरोना संक्रमित होने के बाद उसके संपर्क में आए दोनों संक्रमितों का एतिहात के तौर पर कोविड-19 सेंपल स्वास्थ्य विभाग द्वारा लिया गया था। इसके उपरांत टैस्ट रिपोर्ट में दोनों को कोरोना संक्रमित पाया गया है। वहीं संक्रमितों का लाल बहादुर शास्त्री मैडिकल कालेज नेरचौक में लगातार आने जाने के कारण प्रशासन के हाथ पैर फूलने लगे हैं। वहीं दूसरी ओर दोनों संक्रमित सराज में काफी आना जाना है और क्षेत्र के कई लोगों से संपर्क रहा है। इससे सराज विधानसभा क्षेत्र में हडकंप का माहौल बना हुआ है।


एसडीएम सराज पारस अग्रवाल ने कहा कि मामले में एक कोरोना संक्रमित 16 से 20 जुलाई तक सराज के बटाहर लंबाथाच में रहा था। उन्होंने कहा कि उसके घर को आइसोलेट कर दिया गया है और संपर्क सूची बनने के बाद लंबाथाच को कंनटेनमैट जोन घोषित करने को लेकर फैंसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के अन्य कोरोना संक्रमित भी कांढा में गत शुक्रवार से सोमवार तक रहा था और लगभग 25 से 30 लोग उसके संपर्क में आए हैं। उन्होंने कहा कि कांढा को कंनटेनमैट जोन घोषित कर दिया गया है और कंनटेनमैट जोन में आवाजाही व बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगाया गया है। उन्होंने कहा कि संपर्क में आए लोगों को होम क्वारनटाइन रहने की हिदायत दे दी गई। जल्द ही टैस्ट प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here