हिमाचल है इंडस्ट्रियल क्लीयरेंस देने में करप्शन फ्री

0
172

Industries department shimla
हिमाचल इंडस्ट्रियल क्लीयरेंस देने में देश भर में सबसे अच्छा राज्य बना है। एक सर्वे में इसे करप्शन फ्री भी बताया गया है। नेशनल काउंसिल ऑफ एप्लाइड इकोनोमिक रिसर्च की ओर से स्टेट इन्वेस्टमेंट पोटेंशियल इंडेक्स को लेकर करवाए गए सर्वे में हिमाचल तीन मानकों में नंबर वन रहा है। रिसर्च में खुलासा हुआ है कि इंडस्ट्री लगाने पर हिमाचल में सबसे आसानी से क्लीयरेंस और एनओसी मिल जाती है। इस सर्वे के दौरान 87:5 फीसदी उद्योगपत्तियों ने प्रदेश में उद्योग स्थापित करना आसान बताया। जबकि वेस्ट बंगाल में उद्योगों को स्थापित करने के लिए क्लीयरेंस प्राप्त करना सबसे अधिक मुश्किल कार्य माना गया है। यहां पर 82 फीसदी उद्योगपतियों ने कठिनाइयां आने का हवाला दिया है। सर्वे में खुलासा हुआ है कि गुजरात और दिल्ली पुरे देश में इन्वेस्टमेंट फ्रैंडली हैं जबकि बिहार और झारखंड की स्थिति को सबसे खराब बताया गया है। ओवरऑल सर्वे में हिमाचल प्रदेश 10वें स्थान पर है जबकि फार्मा कंपनियों के लिए इंडस्ट्री लगाने के लिए 7वां पसंद वाला राज्य है।

हिमाचल में करप्शन के मामले जीरो फीसदी
सर्वे में हिमाचल प्रदेश में जीरो फीसदी करप्सन होने की रिपोर्ट दी गई है। सर्वे में भाग लेने वाले सभी भागीदारों ने माना है कि हिमाचल प्रदेश में जीरो फीसदी करप्सन है जबकि आंध्रप्रदेश में 74.3 फीसदी ने करप्सन होने की पुष्टी की है। इससे स्पष्ट होता है कि हिमाचल प्रदेश में उद्योग स्थापित करने को लेकर किसी प्रकार की रिश्वत नहीं देनी पड़ती है जिसकी वजह से उद्योगों को स्थापित करने के लिए हिमाचल प्रदेश उद्योगपतियों की पसंद बन रहा है। सर्वे के पांच बिंदुओं में से ओवरऑल सर्वे में 10 स्थान हासिल किया है। जबकि लेबर में 14 इन्फ्रास्ट्रक्चर में 10 वां, गर्वनेंस एडं पोलिटिक्स में 19वां और इकॉनमी में 17 वां स्थान हासिल किया है। सरकार और पोलटिकल स्टेबिलिटी में भी हिमाचल प्रदेश अव्वल चल रहा है। लेबर फोर्स पार्टिसिपेशन रेट भी प्रदेश में 100 फीसदी बना हुआ है। एवरेज एलेक्ट्रीसिटी टैरिफ फोर इंडस्ट्री में हिमाचल प्रदेश दूसरे स्थान पर बना हुआ है।

सर्वे में ये कमियां निकलकर आई सामने
हिमाचल प्रदेश में रेलवे और रोड़ कनेक्टीविटी की कमी को सबसे बड़ा ड्रॉ बैक बताया गया है। इसके अलावा डेवल्पमेंट एक्सपेंडेचर के मामले में प्रदेश पिछे चल रहा है। रोड डेंसिटी में हिमाचल प्रदेश 16 वें और रेलवे डेंसिटी के मामले में 20 वें स्थान पर बना हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here