मोदी-शाह पर आनंद शर्मा का हमला

0
181

ANAND_SHARMA_14615f
राज्यसभा में उप नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर हमला बोला। अपने दो दिवसीय शिमला दौरे पर पहुंचे शर्मा ने केंद्र की भाजपा सरकार के साथ-साथ आरएसएस की कार्यप्रणाली पर जमकर आलोचना की। शिमला में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि दो साल पहले मोदी सरकार ने जो वायदे किए थे उसे पूरा करने में नाकाम रही। बड़ी-बड़ी उपल्बिधयों के नाम पर देश में जश्र मनाया गया, लेकिन युवा, किसान व गरीबो के लिए मोदी सरकार ने कुछ भी नहीं किया। आनंद शर्मा ने कहा कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 36 देशों को दौरा किया, जिससे देश को क्या मिला व क्या नहीं अभी सपष्ट नहीं हो पाया। उन्होंने आरोप लगाया कि देश के दो करोड़ बेरोजगारों को नौकरी देने वाली मोदी सरकार इन दो सालों में मात्र एक लाख 73 हजार को ही रोजगार दे पाई। देश के कृषि निर्यात में गिरावट आई, नए उद्योग नहीं लगे, किसानों की फसलों को सही दाम नहीं मिले, बावजदू इसके मोदी सरकार व उनकी पार्टी देश में दो साल का जश्र मना रही है। जो जनता के साथ वादा खिलाफी है।

एफडीआई मुद्दे पर आनंद शर्मा ने कहा कि पूर्व की यूपीए सरकार के कार्यकाल में 100 फीसदी एफडीआई का प्रस्ताव तैयार किया गया था। उस वक्त भाजपा ने विरोध किया, लेकिन आज यूपीए की पॉलिसी को ही पॉलिश करने लगी है। आनंद शर्मा ने कहा कि एफडीआई मसले पर कांग्रेस व अन्य विपक्षी दल फेमा नोटिफिकेशल बिल का संसद में विरोध करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि बमेरिका की फार्मेसी कंपनी को लाभ पहुंचाने के लिए मोदी सरकार ने जल्दबाजी में रक्षा के क्षेत्र एफडीआई को मंजूरी दे दी। जीएसटी मसले पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कभी भी विरोध नहीं किया। जीएसटी लागू होने से देश को लाभ मिलेगा, लेकिन पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में गिरावट के साथ आम जनता को भी लाभ मिलना चाहिए। जीएसटी बिल पर कांग्रेस चर्चा के लिए तैयार है।

राहुल का अगला पद पार्टी तय करेगी
राज्यसभा सांसद आनंद शर्मा ने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का अगला पद पार्टी तय करेगी। उन्होंने कहा कि देश के पांच राज्यों के विस चुनावों में पार्टी की हार हुई हो, लेकिन बौखलाहट में संगठनात्मक बदलाव नहीं होगा। आनंद शर्मा ने भाजपा व आरएसएस के नेताओं पर राहुल गांधी के खिलाफ राजनीतिक जहर घोलने का आरोप लगाया। जयपुर में होने वाले सम्मेलन में पार्टी अध्यक्ष पर फैसला हो सकता है।

हिमाचल नहीं, देश की जिम्मेवारी है
आनंद शर्मा ने कहा कि मुझे पार्टी ने राज्यसभा में बड़ी जिम्मेवारी दी है, उसे बखूबी निभा रहा हूं। ऐसी स्थिति में हिमाचल की राजनीति के बारे कुछ भी नहीं कहना है। जहां तक केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा की चर्चाएं हैं वह भाजपा का अपना मसला है। यह बात सही है कि मोदी सरकार देश के कांग्रेस शासित राज्यों को अस्थिर करने में जुट गई है। प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के खिलाफ झूठे आरोप लगाने में भाजपा गुरेज नहीं कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here