मुख्यमंत्री ने नूरपुर, फतेहपुर तथा इंदौरा विधानसभा क्षेत्रों में समर्पित की 70 करोड़ की विकास परियोजनाएं

0
369

????????????????????????????????????

मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने कांगड़ा जिले के विधानसभा क्षेत्रों फतेहपुर, नूरपुर तथा इंदौरा में आज राज्य सचिवालय से टेलिकांफ्रेसिंग के माध्यम से 132 किलोवाट विद्युत उप-केन्द्र का लोकार्पण तथा कांडना (रैहन) में महिला पॉलीटेक्निक कॉलेज की आधारशिला सहित लगभग 70 करोड़ रुपये की अनेकों विकास परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए। मुख्यमंत्री का आज कांगड़ा जिला में इन परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास करने के लिये दौरा प्रस्तावित था, लेकिन खराब मौसम के चलते दौरा स्थगित करना पड़ा। उनका हैलीकॉप्टर गंतव्य तक नहीं पहुंच सका और इसे हमीरपुर के समीप से वापिस अनाडेल लाना पड़ा।

मुख्यमंत्री ने 11.50 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली कुदाल-जगनोली-घैथ-चला-नगाल-जखबाड़ सड़क की आधारशिला की भी घोषणा की। 10 किलोमीटर लम्बी यह सड़क फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र की पांच पंचायतों की आबादी को लाभान्वित करेगी। मुख्यमंत्री ने 90 लाख रुपये की लागत से निर्मित ढांगूपीर पुलिस पोस्ट के लोकार्पण तथा इंदौरा में एसडीएम कार्यालय खोलने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने नूरपुर विधानसभा क्षेत्र के सुलयाली में आयुर्वेद अस्पताल के लोकार्पण करने की भी घोषणा की, जहां नूरपुर के विधायक श्री अजय महाजन ने मुख्यमंत्री की ओर से उद्घाटन पट्टिका के अनावरण की रस्म पूरी की गई। उन्होंने जलापूर्ति योजना के लोकार्पण की भी घोषणा की। यह योजना लगभग 60 हेक्टेयर भूमि को सिंचाई सुविधा उपलब्ध कर देव-भराड़ी व लोहारपुरा पंचायतों के लोगों को लाभान्वित करेगी। मुख्यमंत्री की ओर से श्री अजय महाजन ने सभी रस्मों का भी निर्वहन किया और इसके उपरांत जनसभा को भी सम्बोधित किया।

वनमंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी, राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष कुलदीप कुमार, हि.प्र. राज्य वन विकास निगम के उपाध्यक्ष केवल सिंह पठानिया, हिमुडा के उपाध्यक्ष यशवंत छाजटा, विधायक यादविन्द्र गोमा भी इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ थे। परिवहन तथा तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री जी.एस. बाली, बहुद्देशीय परियोजनाएं व ऊर्जा मंत्री श्री सुजान सिंह पठानिया समारोह स्थल पर उपस्थित थे, जहां उन्होंने मुख्यमंत्री की ओर से उद्घाटन पट्किओं का अनावरण किया। महिलाओं के लिए पॉलीटेक्निक कॉलेज के निर्माण पर 42.61 करोड़ रुपये खर्च होंगे और राज्य में यह दूसरा महिला पॉलीटेक्निक होगा। परिवहन मंत्री ने कहा कि पॉलीटेक्निक का वित्त-पोषण कौशल विकास योजना के अन्तर्गत एशियन विकास बैंक द्वारा किया जाना है। उन्होंने कहा कि शैक्षणिक सत्र 2017-18 के लिए इस पॉलीटेक्निक की कक्षाएं संरक्षक संस्थान बी.आर. अम्बेडकर राजकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज अम्बोटा में आरम्भ की जानी प्रस्तावित हैं।

इसी बीच, मुख्यमंत्री की घोषणा के साथ ही श्री सुजान सिंह पठानिया ने पट्टिका का अनावरण किया। उन्होंने कहा कि 14 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 132 किलोवाट विद्युत उप-केन्द्र इंदौरा, फतेहपुर तथा ज्वाली के 110 गांवों की सवा लाख की आबादी को लाभान्वित करेगा तथा ट्रांसमिशन व वितरण नुकसान को भी कम करेगा। अन्य पिछड़ा वर्ग वित्त आयोग के अध्यक्ष चंद्र कुमार, एपीएमसी के अध्यक्ष राजेन्द्र पठानिया, कांगड़ा केन्द्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष जगदीश सिपहिया, राज्य शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष बलबीर टेगटा, खंड कांग्रेस समिति के अध्यक्ष श्री रमेश राणा, प्रदेश कांग्रेस समिति के सचिव चेतन चम्बियाल, पंचायत समिति के अध्यक्ष सुरिन्द्र शर्मा व अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here