महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत प्रदेश में 1474.34 करोड़ रूपए खर्च

0
180

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के अंर्तगत वर्तमान सरकार के कार्यकाल में प्रदेश में 1474.34 करोड़ रूपए खर्च किए गए। यह जानकारी आज पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास, पशुपालन मंत्री अनिल शर्मा ने जुब्बल क्षेत्र के दो दिवसीय प्रवास के दौरान पुराना जुब्बल में जनसभा को सम्बोधित करते हुए दी। अनिल शर्मा ने बताया कि प्रदेश में जल्द ही 80 पशु चिकित्सक व 225 वैटनरी फार्मासिस्ट के पद भरे जाएंगें। उन्होंने कहा कि जुब्बल कोटखाई क्षेत्र में पशुपालन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए एक करोड़, 50 लाख की राशि खर्च की जा चुकी है।

उन्होंने अपने दो दिवसीय प्रवास के दौरान जुब्बल क्षेत्र में 6 करोड़ से अधिक राशि से होने वाले विकास कार्यो का शिलान्यास व उद्घाटन किये । उन्होंने आज चींग में 9.19 लाख की राशि से निर्मित पशु औषधालय तथा पांच लाख की राशि चमारू में निर्मित शिल्ली पंचायत घर का उद्घाटन किया। इस अवसर पर मुख्य संसदीय सचिव एवं विधायक रोहित ठाकुर ने बताया कि विकास की दृष्टि से जुब्बल कोटखाई क्षेत्र को सुदृढ किया गया है। इस क्षेत्र के लिए पांच नए राष्ट्रीय उच्च मार्ग स्वीकृत हुए हैं जिससे बागवानी व पर्यटन के क्षेत्र में अभूतपूर्व उन्नति होगी। भविष्य में इन राष्ट्रीय उच्च मार्गों के बनने से इस क्षेत्र में धार्मिक पर्यटन में विशेष रूप से वृद्धि होगी।

उन्होंने बताया कि अंटी सिंचाई परियोजना के लिए 5.50 करोड़ रूपए का प्रस्ताव कंेद्र को अनुमोदन हेतु भेेजा गया है। जुब्बल कोटखाई क्षेत्र में प्रदेश सरकार के कार्यकाल में 20 नए शिक्षण संस्थान खोले गए है जिसमें नावर क्षेत्र में कॉलेज खोलना सरकार की बहुत बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि सड़कें हमारी प्राथमिकता है जिसके लिए धन की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने प्राथमिक पाठशाला चींग के खेल मैदान की चार दीवारी के लिए 2 लाख रूपए उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर जिला परिषद सदस्य मोतीलाल सिंथटा, पूर्व जिला परिषद सदस्य वीरेन्द्र गेजटा, प्रधान जयपीढी माता सोनिया, महिला मंडल की प्रधान ललिता ओक्टा, इस क्षेत्र के गणमान्य व्यक्ति तथा सरकारी अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here