मंडी एयरपोर्ट के लिए होगा लिडार सर्वे

0
167

मंडी के बल्ह घाटी में प्रस्तावित इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए आने वाले दिनों में लिडार सर्वे करवाया जाएगा। इसके लिए प्रदेश सरकार ने मंजूरी प्रदान कर दी है। आने वाले दिनों में इस प्रस्तावित इंटरनेशल एयरपोर्ट के निर्माण से पहले लिडार सर्वे से एयरपोर्ट के निर्माण की वास्तविक स्थित का पता चलेगा। साथ ही इस बात का भी पता लगाया जाएगा कि रनवे कितने मीटर का होगा और निर्माण के दौरान क्या समस्याएं सामने हैं और इनको दिक्कतों को कैसे दूर किया जा सकता हैं।
इन सब बातों का पता लगाकर निर्माण कार्य शुरू करने से पहले लिडार सर्वे के माध्यम से लगाया जाएगा। बता दें कि इस सर्वे को करवाने के लिए शिमला में एक मिटिंग हो चुकी है। इस बैठक में निर्णय लिया गया है कि सरकार प्रस्तावित एयरपोर्ट के लिए लिडार सर्वे करवाने के लिए बचनवद्ध हैं। यही नहीं हाल ही पेश किए गए केंद्रीय बजट में भी इस एयरपोर्ट के निर्माण के लिए 1000 करोड़ रुपए का प्रावधान भी केंद्र सरकार ने कर दिया है।
सरकार ने सर्वे के लिए गठित की कमेटी
प्रदेश 
सरकार के आदेश मिलने के बाद पर्यटन विभाग ने लिडार सर्वे करवाने के लिए हाई पावर कमेटी का गठन किया है। इस कमेटी को पर्यटन विभाग के संयुक्त निदेशक रॉबिन जॉर्ज की अध्यक्षता में बनाया गया है। इसमें सदस्य सचिव पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन विभाग मंडी के उपनिदेशक पंकज शर्मा के रूप में शामिल किया गया है।
वैपकोस लिमिटेड करेगी सर्वे
बल्ह 
एयरपोर्ट के निर्माण से पहले प्रदेश सरकार वैपकोस लिमिटेड जल शक्ति मंत्रालय के माध्यम से लिडार सर्वे करवाएगी। लिडार सर्वे हैलीकॉप्टर की मदद से किया जाएगा। सर्वे करने के लिए हैलीकॉप्टर के निचले हिस्से में बांधा जाएगा और इसे प्रस्तावित क्षेत्र में उड़ाया जाएगा। इस संबंध में तैयारी करने के निर्देश मिले हैं। हाई लैवल टैकनोलजी से किया लिडार सर्वे किया जाएगा। इस सर्वे से एयरपोर्ट के निर्माण के संबंध में वास्तविकता को पता लगाया जाएगा।
सी.एम. का हैं ड्रीम प्रोजेक्ट
बल्ह
 में इंटरनेशनल एयरपोर्ट मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का ड्रीम प्रोजेक्ट है। वे पिछले काफी समय से इस मसले को केंद्र सरकार के समक्ष उठा रहे हैं। यह प्रदेश का सबसे बड़ा हवाई अड्डा होगा। प्रदेश में पर्यटन की दृष्टि से इस हवाई अड्डे को महत्वपूर्ण है। बल्ह एयरपोर्ट का निर्माण 2 चरणों में होगा। पहले चरण में 2400 मीटर का रनवे बनाया जाना प्रस्तावित है। इसके लिए 3400 बीघा जमीन का अधिग्रहण होगा।
………….
बल्ह में प्रस्तावित इंटरनेशनल एयरपोर्ट के संबंध में लिडार सर्वे उपयुक्त हैं। लिडार सर्वे एयरपोर्ट के निर्माण में काफी बड़ा कदम हैं।
– पंकज शर्मा, उपनिदेशक पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन विभाग मंडी।
………….

मंडी के बल्ह घाटी में प्रस्तावित एयरपोर्ट निर्माण के संबंध में लिडार सर्वे करने के लिए मुख्यमंत्री के आदेश मिले हैं। इसके लिए अब लिडार सर्वे किया जाएगा। स्वीकृति मिलने के बाद लिडार सर्वे करवाया जाएगा। सर्वे को अंतिम मंजूरी मिलने के बाद शीघ्र एयरपोर्ट के संबंध में लिडार सर्वे शुरू कर दिया जाएगा।
– पंकज दुबे, प्रोजैक्ट प्रमुख वैपकोस लिमिटेड जल शक्ति मंत्रालय।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here