पांवटा साहिब में जीएसटी चोरी से 8 करोड़ के कारोबार का खुलासा, 2 डीलरों से 68 लाख की रिकवरी

0
25

1 करोड़ 73 लाख रूपए का ठोका था जुर्माना, 68 लाख की हो चुकी है रिकवरी नाहन। गुरू की नगरी पांवटा साहिब में जीएसटी चोरी से 8 करोड़ रूपए के कारोबार का भांडाफोड हुआ है। राज्य के कर एवं आबकारी विभाग सिरमौर ने इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। जीएसटी चोरी कर 8 करोड़ के कारोबार के इस मामले में अब संबंधित विभाग 2 डीलरों से 68 लाख की रिकवरी की गई है। दरअसल कर एवं आबकारी विभाग ने जीएसटी एक्ट के तहत बीते साल दिसंबर महीने में छापामारी की थी, जिसके बाद पंजाब के 2 डीलरों से 68 लाख की रिकवरी की गई है। दोनों की डीलर पांवटा साहिब में बिना जीएसटी नंबर के लोहा, ईंटें, सरिया व मशीनरी बेचने का काम कर रहे थे। लिहाजा राज्य कर एवं आबकारी विभाग की टीम ने दिसंबर माह में दोनों डीलरों पर भारी भरकम का जुर्माना ठोका।

इसके बाद टीम ने कार्रवाई करते हुए सारा सामान सील कर दिया। आबकारी विभाग के मुताबिक दोनों व्यापारी हिमाचल में पंजीकृत नहीं थे। बावजूद इसके यहां व्यापार कर रहे थे। बीते साल जनवरी से दिसंबर माह तक व्यापारियों ने 8 करोड़ का कारोबार किया। दोनों व्यापारियों ने 400 ट्रकों में लोहा, ईंटें सरिया व बिजली का सामान यहां से पंजाब, हरियाणा व दिल्ली भेजा। इसके बाद विभाग ने 2 दिसंबर को छापामारी को अंजाम दिया। विभाग ने दोनो कारोबारियों पर 1.73 करोड़ का जुर्माना ठोका, जिसमें से 68 लाख रुपये सरकारी खजाने में जमा किए जा चुके हैं। राज्य कर एवं आबकारी विभाग के सहायक आयुक्त प्रीतपाल सिंह ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि अब तक व्यापारियों से 68 लाख रुपए की रिकवरी की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि शेष रिकवरी की प्रक्रिया जारी है। उन्होंने बताया कि विभाग की टीम आगामी कार्रवाई में जुटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here