दारन के पास सड़क बनी पत्थर..

0
347


रामपुर बुशहर: बरसात शुरू होते ही रामपुर उपमंडल के अंतर्गत आने वाली सड़कें अपना जवाब देना शुरू कर दिया हैं। आए दिल लगातार विभिन्न क्षेत्रों में बरसात के पानी से सड़कों पर मलवा व नालियों का पानी बहना शुरू हो चुका हैं। ऐसा ही मामला रामपुर के दारनघाटी की सड़क आए दिन बरसात के शुरू होते ही बेहद खस्ता हालत में हो गई हैं। बरसात का सारा पानी सड़क में बहने से सड़क पर पत्थर ही पत्थर आ चुके हैं। अब ऐसे में ग्रामीणों को अपने वाहन चलाना मुश्किल हो रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि वीरवार की रात को हुई भारी बरसात से सड़क की हालत पुरी तरह से खराब हो चुकी हैं। ऐसे में सड़क पर छोटे व बड़े वाहन चलाना इन पर मुश्किल हो रहा हैं। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को वह दारनघाटी व आसपास के क्षेत्र का दुध भी दुध केन्द्रों तक नहीं पहुंचा पाए हैं। उन्होंने बताया कि कुछ दिनों में अब सेब सीजन भी शुरू होने वाला है ऐसे में यहां के बागवानों को भी चीता सताने लग गई है। कि किस तरह से वह अपने सेबों को मंडियों तक पहुंचाएंगे। उन्होंने बताया कि इस सड़क को काफी लंबे समय से मेटल करने के लिए टेंडर लगाया गया है लेकिन ठेकेदार की मनमानी के कारण इस पर समय रहते काम नही किया जा रहा हैं। जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं।

वहीं इस बारे में युवा कांग्रेस उपाध्यक्ष अजय राणा ने बताया कि बरसात शुरू होते ही रामपुर के ग्रामीणों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं। उन्होंने बताया कि मशनु से दारनघाटी जाने वाली सड़क भारी बरसात के कारण दारन के पास खस्ता हालत में है वहां पर वाहनों को चलाना मुश्किल हो रहा है। ऐसे में वहां के ग्रामीण आए दिन अपना दुध, सब्जियों को मार्केट तक बेचने के लिए नहीं पहुंचा पा रहे हैं। वहीं अब सेब सीजन भी शुरू होने वाला है यदि इस सड़क के यही हालात रहते है तों आने वाले समय में यह बागवानों के लिए एक बहुत बड़ी समस्या बनकर सामने आ सकती हैं। अजय ने चेतावनी देते हुए बताया कि यदि लोक निर्माण विभाग समय रहते इस सड़क को सही नहीं करता है तो यहां के युवा मिलकर विभाग का घेराव करने से भी पीछे नहीं हटेंगे।


वहीं इस बारे में कनिष्ठ अभियंता सीआर जोशी ने बताया कि दारनघाटी की सड़क को दुरूस्त करने के लिए विभाग द्वारा मशिन भेजी जाएगी। सड़क को समय रहते ठिक कर दिया जाएगा। ताकि ग्रामीणों को परेशानियों का सामना न करना पड़े।

बता दें कि मशनु से दारनघाटी जाने वाली सड़क को पक्का करने के लिए विभाग ने दो साल पहले टेंडर लगाया गया है । जिसके बाद ठेकेदार यहां पर सड़क को पक्का करने का कोई काम नहीं कर रहा है। इस पर लोक निर्माण विभाग भी न जाने क्यों मेहरबान है। ऐसे में विभाग इस ठेकेदार पर कोई कार्रवाही नहीं कर रहा हैं। जिसके कारण ग्रामीणों को समस्याओं से जुझना पड़ रहा हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here