कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर किसानों के लिए सामुदायिक रेडियो स्टेशन शुरू करेगा

0
35

किसानों को कृषि सम्बन्धी सूचना और नई तकनीक से जागरूक कराने के लिए कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर जल्द ही समुदायिक रेडियो स्टेशन आरम्भ करेगा। चौधरी सरवण कुमार कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ. एच.के.चौधरी ने बताया कि यह रेडियो स्टेशन जिला मण्डी के सुन्दरनगर में स्थापित किया जाएगा।

डाॅ. एच.के. चौधरी ने आज यहां राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से राजभवन में भेंट की और उन्हें विश्वविद्यालय द्वारा की जा रही विभिन्न गतिविधियों और नवीन प्रयासों से अवगत करवाया।

कुलपति ने राज्यपाल को बताया कि हाल ही में हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व की स्वर्ण जयंती समारोह के दौरान विश्वविद्यालय ने राज्य के प्रगतिशील किसानों के बारे में एक पुस्तिका प्रकाशित की है, जिन्होंने प्रदेश, राष्ट्र और अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर कृषि क्षेत्र में बेहतर कार्य किए हैं। पुस्तिका का नाम एग्रीकलचर एम्बैस्डरस है। यह पुस्तिका अन्य किसानों को प्रशिक्षण और कृषि क्षेत्र में नई तकनीकें अपनाने के लिए प्रेरित करेगी।

उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में पहली बार किसान गैलरी स्थापित की गई है और जल्द ही सूचना प्रद्यौगिकी विभाग के सहायोग से विश्वविद्यालय में ई-आफिस की स्थापना भी की जायेगी। इसके अतिरिक्त विश्वविद्यालय की एक नई वैबसाईट भी प्रस्तावित है।

उन्होंने कहा कि एक फरवरी से आनलाइन कक्षाएं आरम्भ हो गई हैं और प्रवेश के इच्छुक सभी स्नातक और स्नातकोत्तर विद्यार्थियों के लिए 8 फरवरी से प्रवेश शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि लाहौल-स्पीति में स्नो ट्राउट संबंधी नई परियोजना पर कार्य चल रहा है ताकि मछली का उत्पादन बढ़ाया जा सके। इसके अतिरिक्त पालमपुर में गद्दी भेड़ों के लिए एक प्रयोगशाला स्थापित की जा रही है।

राज्यपाल ने कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि इस विश्वविद्यालय का कृषि क्षेत्र में अनुसंधान और विस्तार में महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने नई तकनीकों और कृषि क्षेत्र के उन्नयन पर बल देते हुए कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुसार भविष्य की रणनीति पर कार्य किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here