कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सुंदरनगर में शिक्षकों सहित स्टाफ का लिया कोरोना सैंपल

डेडिकेटेड कोविड अस्पताल नेरचौक जांंच के लिए भेजे गए सैंपल

0
263

सुंदरनगर : हिमाचल प्रदेश में बढ़ते कोरोना के संक्रमण के साथ प्रदेश सरकार के द्वारा नवमी से बाहरवीं तक स्कूल खोलने के फैंसले को गहरा धक्का लगा है। प्रदेश सरकार ने बीते 2 नंवबर को प्रदेश के स्कूल खोलने का फरमान तो जारी कर दिया लेकिन 8 दिनों के अंदर ही 300 से ऊपर अध्यापक और विद्यार्थी कोरोना संक्रमण पाए जा चुके हैं। इसके बाद सरकार की सोशल मीडिया पर खूब किरकिरी हुई और प्रदेश सरकार ने मंत्रिमंडल की बैठक में सभी शिक्षण संस्थानो को 11 से 25 नवंबर तक बंद रखने के आदेश जारी कर दिए हैं।वहीं दूसरी ओर शिक्षण संस्थानों में बढ़ते के संक्रमण को लेकर को प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग भी सतर्क हो गया है। प्रदेश के सभी स्कूलों में अध्यापकों सहित स्टाफ के कोरोना सैंपल जांच के लिए लिए जा रहे हैं। इसी कड़ी में बुधवार को जिला मंंडी के सुंदरनगर के राजकीय आदर्श कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के शिक्षकों सहित स्टाफ के 32 सैंपल कोरोना जांच के लिए डेडिकेटेड कोविड अस्पताल नेरचौक जांंच के लिए भेजे गए। जिनकी रिपोर्ट वीरवार शाम तक आने की उम्मीद है।

आदर्श कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सुंदरनगर के प्रधानाचार्य मनोज वालिया ने बताया कि सरकार और शिक्षा विभाग के दिशा निर्देश अनुसार कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्कूल के 32 शिक्षकों सहित स्टाफ का कोरोना सैंपल लिया गया है। जिसकी रिपोर्ट कल शाम तक आने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि कोरोना सैंपल बीएमओ रोहाडा डॉ अविनाश पवर की टीम द्वारा लिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा की सभी शिक्षक छुट्टियों के बाद स्कूल में बच्चों के समक्ष स्वस्थ होकर लौटे यही हमारा मुख्य उद्देश्य है।

गौरतलब हो कि प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर सरकार और प्रशासन कोई कमी नहीं छोड़ना चाहते। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा कोरोना की जांच को बढ़ा दिया है। ईटीवी भारत के लिए सुंदरनगर से नितेश सैनी की रिपोर्ट।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here